जशपुर। पहुंच और पावर का भरोसा दिला कर तीन बेरोजगारों से नौकरी लगाने के नाम पर पांच लाख ठगी हुई है। सभी कुनकुरी क्षेत्र के रहने वाले है। इस मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक 30 नवम्बर को प्रार्थिया सुचिता बड़ा निवासी-सागजोर थाना-कुनकुरी में रिपोर्ट दर्ज कराई कि 2013-14 में जेल प्रहरी के पद पर नौकरी लगाने के नाम से 02 लाख रूपये एवं रेशमा लकड़ा से हॉस्टल अधीक्षक में भर्ती के नाम से 03 लाख रूपये रूपचंद बघवार निवासी-डुगडुगीया कुनकुरी द्वारा मेरे और मेरे दोस्त का ऊपर पहुंच है बोलकर कुल 5 लाख रूपये ठगी कर ले गये, परन्तु पीड़िता का नौकरी नहीं लगने से पीड़िता के द्वारा अपना पैसा वापस मांगा गया । जिस पर रूपचंद बघवार पैसा नहीं दूंगा बोलकर गाली-गलौच करने लगा। रिपोर्ट पर थाना-कुनकुरी में अपराध क्रमांक 157/21 धारा 420 भादवि. पंजीबद्ध कर विवेचना कार्यवाही की गई। विवेचना दौरान आरोपी रूपचंद बघवार से पूछताछ पर बताया कि बसंत गुप्ता के खाते से उमेश गुप्ता को 05 लाख 15 हजार रूपये ट्रांसफर किये थे, उमेश गुप्ता और बसंत गुप्ता से पूछताछ करने पर एवं बसंत गुप्ता के खाते की जानकारी लेने पर पैसा का ट्रांसफर होना पाया गया। उक्त तीनों आरोपियों द्वारा जानबूझकर पीड़िता से नौकरी लगाने के नाम पर ठगी किया गया एवं पैसा वापस नहीं किया जा रहा है जिस पर तत्काल कार्यवाही करते हुए आरोपी रूपचंद बघवार उम्र 61 वर्ष निवासी-कुनकुरी, बसंत गुप्ता उम्र 61उम्र निवासी-गिरीलडीह सीतापुर, उमेश गुप्ता उम्र 50 वर्ष निवासी-बटाईकेला सीतापुर जिला-सरगुजा के विरूद्ध अपराध सबूत पाये जाने से 1 दिसम्बर को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया।
प्रकरण की विवेचना कार्यवाही व आरोपियों को गिरफ्तार करने में थाना प्रभारी कुनकुरी उप निरीक्षक भास्कर शर्मा, प्र.आर. कार्तिक भगत, आरक्षक नंदलाल यादव, संजय लकड़ा की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।