संकुल स्तरीय बाल क्रीडा में रंगारंग प्रस्तुति, दिखी छत्तीसगढिय़ा संस्कृति की झलक

खेल छत्तीसगढ़


धमधा। संकुल केंद्र गिरहोला द्वारा ग्राम पाहरा में संकुल स्तरीय बाल-क्रीडा प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में छत्तीसगढ़ की पारंपरिक खेल गेड़ी,फुगड़ी, भौंरा के साथ-साथ गोली-चम्मच, आलू दौड़, त्रितंगी दौड़, रस्सी छलांग, खो-खो, कबड्डी, कुर्सी दौड़, बोरा दौड़ आदि शामिल रहा। इसके साथ ही साथ रंगारंग लोक नृत्य व लोकगीत जिसमें बसदेवा गीत, राऊत नाचा, ददरिया, बस्तर का भत्तरी नृत्य लोगों का मन मोह लिया। प्रथम दिवस का खेल का उद्घाटन कमलेश वर्मा (एसएमसी अध्यक्ष हाईस्कूल पाहरा) के मुख्य अतिथ्यि, चरणदास मानिकपुरी (एसएमसी अध्यक्ष मा.शा. पहारा की अध्यक्षता तथा धनीराम वर्मा, (पंच) तुलाराम सेन, (पंच ) कुंजलाल बंजारे, (संकुल प्रभारी गिरहोला) के विशिष्ट अतिथि में गोला फेंक कर किया गया। इसमें कमलेश वर्मा प्रथम स्थान प्राप्त किये। पुरस्कार वितरण समारोह के मुख्य अतिथि महेंद्र सिंह ठाकुर (प्राचार्य उ.मा.शा.सेमरिया), अध्यक्षता बेनीराम वर्मा (प्राचार्य हाईस्कूल पाहरा), विशिष्ट अतिथि रचना झा (प्राचार्य.उ.मा.शा. गिरहोला), माला घोष (प्राचार्य हा.स्कूल डूमर) रहे। द्वितीय दिवस के मुख्य अतिथि श्रीमती नैनी वर्मा (सरपंच ग्रा. पं.पाहरा) अध्यक्ष लोकेश्वरी वर्मा (एस.एम.सीअध्यक्ष प्राथ. शा. पाहरा) विशिष्ट अतिथि कृष्ण कुमार वर्मा थे। समापन समारोह और पुरस्कार वितरण के मुख्य अतिथि अरुण कुमार खरे (वि.खं.शि.अधि.धमधा), अध्यक्षता कुंजलाल बंजारे (संकुल प्रभारी गिरहोला),अति विशिष्ट अतिथि महावीर वर्मा (बीआरसी धमधा) विनय कुमार देशमुख,(व्याख्याता), कमलेश वर्मा, ग्राम पंचायत पाहरा के पंचगण और ग्रामवासियों की गरिमामय उपस्थिति में पुरस्कार वितरण किया गया। छत्तीसगढ़ की संस्कृति की झलक भरथरी नृत्य विशेष आकर्षण का केंद्र रहा। बेनीराम वर्मा द्वारा आभार व्यक्त किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *