शहीद वीर नारायण सिंह के शहादत दिवस में उनके सातवीं पीढ़ी के परिजन सम्मानित

छत्तीसगढ़

रायपुर।अमर शहीद वीर नारायण सिंह की जन्मस्थली सोनाखान में शहीद वीर नारायण के शहादत दिवस में मंगलवार को उनके सातवीं पीढ़ी के श्री रजिंदर सिंह दीवान सहित अन्य परिजनों को सम्मानित किया गया। यह सम्मान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदान किया। इस अवसर पर उन्होंने शहीद वीर नारायण सिंह के शहादत दिवस पर उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि दी। इस मौके पर स्कूली बच्चों ने शहीद वीर नारायण सिंह के व्यक्तित्व और कृतित्व पर आधारित अनेक देशभक्तिपूर्ण सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। मुख्यमंत्री बघेल ने नारायण सिंह के शहादत एवं श्रद्धांजलि दिवस पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के गौरवशाली इतिहास में छत्तीसगढ़ के वीर सपूत शहीद वीर नारायण सिंह के बलिदान को हमेशा याद किया जाएगा। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ महतारी के सच्चे सपूत वीर नारायण सिंह जिन्होंने सन् 1857 में देश के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम आंदोलन में जनता में देशभक्ति का संचार किया। सन् 1856 के भयानक अकाल के दौरान गरीबों को भूख से बचाने के लिए अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ कड़ा संघर्ष किया और जनता की भलाई के लिए अपने प्राण तक न्यौछावर कर दिए। देश की आजादी तथा मातृभूमि के प्रति सेवा, समर्पण और उनके बलिदान को हमेशा याद किया जाएगा। कार्यक्रम में नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, विधायक श्री मोहन मरकाम, कसडोल विधायक सुश्री शकुंतला साहू सहित अनेक जनप्रतिनिधि और अमर शहीद वीर नारायण सिंह के परिवारजन उपस्थित थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *