गुनरस पिया फाउंडेशन के संगीतिक सभा में, शहीदों को दी श्रद्धांजलि

छत्तीसगढ़


रायपुर। गुनपिया फाउंडेशन के साढे सात बरस के 88 वा संगीतिक सभा रविवार 17 फरवरी को बूढ़ापारा स्थित भवन में आयोजित किया गया। इस दिन फाउंडेशन ने पुलगावा में शहीदों की स्मृति में दीप प्रज्वलित कर 2 मिनट मौन रखकर श्रद्धांजलि दिया। कार्यक्रम की शुरुआत माता सरस्वती के छाया चित्र में दीप प्रज्वलित व माल्यार्पण कर किया गया । इस दौरान संगीत शिष्यों, ने सरस्वती वंदना और गुरु वंदना गायन किया। फाउंडेशन का 88 वा सभा भी पण्डित गुणवन्त व्यास की स्मृति के नाम रहा । फाउंडेशन मूल उद्देश्य ,शास्त्रीय संगीत समारोहों द्वारा शास्त्रीय संगीत का प्रचार प्रसार और देश के नवोदित शास्त्रीय गायन वादन कलाकारों को मंच प्रदान करने के साथ ही मासिक सभा के माध्यम से लोगों को शास्त्रीय संगीत के प्रति रुचि जागृत करें । इस दिन शास्त्रीय गायकों में हेमल शाह ने सलाम उन वीरों को , आरना देवस्कर द्वारा राग यमन में ,आओ बलमा,नीलिमा मिश्रा द्वारा राग गौड़ सारंग में ,पाती झर गई,और पार उतारो। कावेरी व्यास ने राग भैरव मे जागो मोहन प्यारे, निर्झर चांडक ने, राग श्याम कल्याण में फ़ैज़ की ग़ज़ल शामें हयात आई,शुभ्रा ठाकुर ने मीरा बाई का भजन, पण्डित व्यास की स्वर रचना ,मेरे तो गिरधर गोपाल ,पुष्पलता रेड्डी ने राग कलावती में जा रे जा रे भंवरा,कांति भाई ने राग केदार में ,सोच समझ मन,प्रज्योत देवास्कर ने राग भैरव में मेरो अल्लाह, और राग भूपाली में, दुनिया किसी के प्यार में,प्रवीण जैन , मिर्ज़ा ग़ालिब की ग़ज़ल ,हज़ारों ख्वाहिशें ऐसी ,सजंय कश्यप ने राग जोग में ,ठहरी ठहरी सी ।रचना चांडक द्वारा ,दुष्यंत कुमार की ग़ज़ल, ये धुएँ का एक घेरा, बसन्त बहार सोनी द्वारा ,जलते हैं जिसके लिए,देसाई ने अहीर भैरव में राम का गुणगान करिए।दीपक व्यास द्वारा पण्डित व्यास की रचित धुन,रंग भरी राग भरी, प्रज्ञा त्रिवेदी द्वारा छतीसगढ़ीं भाषा मे पण्डित व्यास को रची धुन ठुमरी ,मारे नजरिया के बान सांवरिया सिकारी भइगे मोर,, मनीषा त्रिवेदी द्वारा सितार वादन, राग तिलक कामोद में किया गया। दीपक हटवार ने कबीर का भजन निर्भय निर्गुण ,आलोक त्रिवेदी ने आओगे जब तुम सजना,आँगन फूल खिले प्रस्तुत किया गया। इस दौरान तबले पर ओम प्रकाश भोई व गिरीश काले थे। इस कार्यक्रम में प्रदेश के संगीत प्रेमी उपस्थित रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *