तिल्दा नेवरा, पुलिस की सराहनीय पहल

छत्तीसगढ़

By। अविनाश वाधवा


तिल्दा नेवरा । तिल्दा नेवरा पुलिस की सराहनीय पहल में डायल 112 की सेवा ने मानवीयता की अनोखी मिसाल पेश की है ,एक मानसिक रूप से कमजोर लड़की उम्र 22 वर्ष जो सिर्फ अपना नाम बता पा रही थी। वह भटकर ग्राम तुलसी पहुच गई थी ,किसी ने 112पे सुचना मिलने के बाद थाना प्रभारी शरद चन्द्रा ने उसे महिला कास्टेबल प्रज्ञा को बोल कर उसे खाना खिला कर महिला सवेंदना कक्ष में पुलिस के सरक्षण में रख कर डाक्टर से चेकअप करवा कर उसे इलाज के लिए बिलासपुर अस्पताल भेजा। तिल्दा थाना प्रभारी शरद चंद्रा ने बताया लड़की सिर्फ अपना नाम मोनिका कुरे बता रही है न अपने परिजनों के बारे में न घर का पता बता रही है पुलिस एवं 112 की संयुक्त सराहनीय पहल से एक अज्ञात मानसिक रोगी ठीक हो पायगा की नहीं यह तो वक्त ही बताएगा लेकिन इस तरह की इंसानियत सभी पुलिस वाले दिखाने लगे तो छत्तीसगढ़ की तस्वीर ही कुछ और होगी
तिल्दा पुलिस की तत्परता के कारण लड़की सही हांथो में पहुच गई तिल्दा थाना प्रभारी शरद चन्द्रा ने बताया की लडकियों के साथ बहुत परेशानी है ,असमाजिक तत्व के लोग इस टाईप की भोलीभाली लडकियों को अकेले देख फायदा उठाने में कोई कसर नहीं छोड़ते तिल्दा पुलिस के इस सराहनीय कदम में जिस टीम ने काम किया उसमे हेड कास्टेबल प्रज्ञा शर्मा, शोकिलाल बोई, अलोक शर्मा, गोपी कुम्भकार ,छबी पटेल और प्रमोद निषाद आदि शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *