तीन करोड़ की ज्वेलरी चोर को पुलिस ने 36 घण्टे में पहुंचाया सलाखों के पीछे …

क्राइम छत्तीसगढ़


करोड़ों के जेवर और डेढ़ लाख नगद जप्त

. चोरी के पैसों से खोलना चाहता था आलीशान पार्लर

रायपुर। दुर्ग के आकाश गंगा स्थित पारख ज्वेलर्स, सुपेला में दिवाल तोड़कर तथा लॉकर काटकर करोड़ों के सोने के ज्वेहरात चोरी की घटना घटित हुई थी। घटना की जानकारी पारख ज्वेलर्स के संचालक को सुबह शोरूम खोलने के बाद लॉकर खुला देखकर चोरी की सूचना पुलिस को तत्काल दी गई थी। दुर्ग जिले के व्यवसायिक स्थल में बड़ी चोरी की सूचना मिलते ही दुर्ग रेंज के पुलिस महानिरीक्षक श्री विवेकानंद सिन्हा, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अजय कुमार यादव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (षहर) श्री रोहित कुमार झा, श्री लखन पटले (ग्रामीण), उप पुलिस अधीक्षक (क्राईम) श्री प्रवीर चन्द्र तिवारी, नगर पुलिस अधीक्षक भिलाई नगर श्री अजीत यादव, नगर पुलिस अधीक्षक छावनी श्री विश्वास चंद्राकर, नगर पुलिस अधीक्षक दुर्ग श्री विवके शुक्ला एवं एफ.एस.एल. प्रीभारी डॉ. अनुपमा मेश्राम एवं श्री राकेश नरवरे, निरीक्षक रेंज फिंगर प्रिन्ट एक्सपर्ट दुर्ग सहित आला अधिकारी घटना स्थल पर पहुंच कर घटना स्थल का बारीकी से मुआयना किया गया। सभी वरिष्ठ अधिकारी घटना स्थल पर कैम्प कर घटना की गंभीरता को देखते हुए तत्काल एक मजबूत रणनीति तैयार कर आरोपी की पतासाजी करने हेतु पुलिस महानिरीक्षक, दुर्ग रेंज श्री विवेकानंद सिन्हा द्वारा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अजय कुमार यादव ने घटना की गम्भीरता को ध्यान में रखते हुए अति. पुलिस अधीक्षक (शहर) श्री रोहित कुमार झा के नेतृत्व में घटना के अलग-अलग बिन्दुओं को ध्यान में रखते हुए तकनीकी विश्लेषण के लिए निरीक्षक गौरव तिवारी एवं घटना स्थल के आसपास के सीसीटीवी फूटेज के लिए उप पुलिस अधीक्षक उन्नती ठाकुर, निरीक्षक जितेन्द्र वर्मा, पारख ज्वेलर्स एवं आसपास के लोगों से पूछताछ हेतु परिवहन उप. पुलिस अधीक्षक डॉ. चित्रा वर्मा, विजय राजपूत, निरीक्षक बृजेश कुशवाहा एवं शहर के रेल्वे स्टेशन-बस स्टैण्ड में यात्रियों की चेकिंग एवं पूछताछ हेतु निरीक्षक गोपाल वैश्य एवं होटल-लॉज, ढाबा एवं टोलनाका की जानकारी हेतु निरीक्षक भूषण एक्का, उप निरीक्षक राजेन्द्र कंवर एवं तरीका वारदात को ध्यान में रखते हुए अन्य राज्यों से संपर्क कर जानकारी प्राप्त करने हेतु निरीक्षक नरेष पटेल को शामिल करते हुए अलग-अलग 6 टीमों को तत्काल कार्यवाही हेतु निर्देषित किया गया। मामले मंे घटना से संबंधित 125 लोगों से पूछताछ की गई।
                घटना स्थल के निरीक्षक से लॉकर के पास एक लोहे काटने का ब्लेड भी बरामद हुआ था जिसका उपयोग लॉकर काटने के लिए किया गया था ठीक इसी तरीके से पिछले वर्ष थाना छावनी में ए.वी.एन. बजाज शो रूम में लोहे की लॉकर काटकर 09 लाख रूपये चोरी की घटना हुई थी जिसमें दुर्ग पुलिस द्वारा चोरी करने वाले उक्त आरोपी लोकेश श्रीवास उर्फ गोलू को गिरफ्तार किया गया था। इस महत्वपूर्ण जानकारी मिलने के बाद उक्त आरोपी लोकेश श्रीवास उर्फ गोलू के संबंध में टीम द्वारा जानकारी एकत्र की गई।

जानकारी मिली कि आरोपी लोकेश नवम्बर 2019 में जेल से रिहा हुआ है एवं दुर्ग जिले में आता-जाता है एवं कुछ लोगों के द्वारा सुपेला क्षेत्र में भी घुमते हुए देखा गया। फील्ड टीम द्वारा संदेही लोकेश को चिंहित किया गया। उक्त सूचना को वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराते हुए लोकेश श्रीवास को दुर्ग बस स्टैण्ड रैन बसेरा डॉरमेट्री से हिरासत में लिया गया और पूछताछ की गई अपना अपराध कबूल कर बताया कि जेल से छूटने के बाद किसी बड़ी चोरी करने की फिराक में घूम रहा था। करीबन 20 दिन पहले सुपेला का आकाष गंगा स्थित पारख ज्वेलर्स में चोरी करने की सुनियोजित योजना बनाई, आकाशगंगा में कपड़े खरीदने के बहाने से पारख ज्वेलर्स की रेकी कर सप्ताह में मंगलवार को शो रूम बंद होने के कारण मंगलवार के दिन को ही चुनकर चोरी करने की योजना बनाई। चूंकि पारख ज्वेलर्स के बगल में निर्माणाधीन ईमारत में बांस की चौली लगी हुई थी। जिसका उपयोग कर चोरी की फिल्मी योजना को अमलीजामा पहनाने के लिए दिनांक 11 फरवरी 2020 को दोपहर सुपेला पहुंचकर नवनिर्मित ईमारत की चौली से चढ़कर छत के रास्ते से पारख ज्वेलर्स की छत पर पहुंच गया तथा लोहे की राड से दीवाल फोड़कर लिफ्ट के रास्ते होते हुए ग्राईण्डर मषीन से लॉकर का रॉड काटकर सोने ज्वेहरात चोरी कर छत के रास्ते होकर भाग गया था। चोरी किये हुए जेवर को लेकर भागने की फिराक में घुम रहा था लेकिन पुलिस के चौतरफा दबाव के कारण शहर से बाहर भाग पाना संभव नहीं हो पाने के कारण रैन बसेरा में पनाह लिया हुआ था, जहां से पुलिस द्वारा पकड़ा गया। आरोपी के कब्जे से 03 करोड़ की कीमती सोने के ज्वेहरात एवं एक लाख पचास हजार रू. जब्त किया गया।  दुर्ग पुलिस की टीम घटना के बाद से ही लगातार आरोपी को पकड़ने में बिना रूके दो रात तक लगातार रतजगा करते हुए 36 घण्टे के अंदर आरोपी को पकड़ लिया गया और माल बरामद किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *