किसानों का एक ही मांग मंडी प्रशासन की मद से करे भुगतान …

छत्तीसगढ़

राजिम। कृषि उपज मंडी समिति राजिम में किसानों द्वारा बेचे गए उपज का भुगतान पिछले सात महीने से नहीं मिला है इससे नाराज किसानों ने 25 फरवरी 2020 दिन मंगलवार से राजिम मंडी में नीलाम बंद कर मंडी गेट के सामने अनिश्चित कालीन धरना पर है। 25 तारीख से ही रात दिन राजिम मंडी बंद कर धरना पर डटे हुए हैं। किसानों ने कहा कि मंडी निधि से भुगतान प्राप्ति तक यह धरना जारी रहेगी, गाँव गाँव मे किसानों द्वारा मुनादी कर दी गई है कि मंडी में अनिश्चित कालीन धरना के चलते कोई भी किसान या छोटे व्यापारी अपना धान बेचने राजिम मंडी न लावें। आज तीसरे दिन भी शासन प्रशासन ने किसानों का सुध नहीं लेने नहीं पहुंचा।
तीसरे दिन गरियाबंद जिला पंचायत क्षेत्र क्रमांक 03 के नवनिर्वाचित सदस्य चंद्रशेखर साहू ने धरना स्थल पहुंच कर किसानों के आंदोलन को समर्थन करते हुए कहा कि किसानों बड़े ही धीरज के साथ आठ महीने तक इस इंतजार में थे कि अब तब किसानों को उनके उपज का भुगतान मिल जाएगा लेकिन नहीं मिला। किसान संगठित होकर आंदोलन कर रहे हैं और यही एकता ही जीत हासिल करेगा। अगर भुगतान नहीं होता है तो हम भी आंदोलन के साथ जुड़कर कंधे से कंधा मिलाकर चलेंगे, आंदोलन को हमारा पूर्ण समर्थन है।
धरना प्रदर्शन में अखिल भारतीय क्रांतिकारी किसान सभा के राज्य सचिव तेजराम विद्रोही तीन दिनों से रात दिन पीड़ित किसानों के साथ डटे हुए हैं। आज के प्रदर्शन में अखिल भारतीय क्रांतिकारी किसान सभा के सदस्य जहुर राम साहू, कुमार साहू सहित पीड़ित कृषकगण लुमश राम, ठाकुर राम, धनाजी, सोमनाथ साहू, दिनेश कुमार, कोमल राम, समारू राम, बिष्णुराम, बलदाऊ ध्रुव, भारत साहू, बंशीराम, बिसाहू राम,फलेश्वर यादव, तिलकराम, होरीलाल, कृष्ण कुमार, दसवंत,संतु, जहुरराम, बाल्मिकी साहू, गिरधर साहू, चुम्मन लाल, अनुज कुमार, रामबगस साहू , घनश्याम साहू, चुम्मन यादव, तुलसीराम साहू, गोविंद वर्मा, पुरुषोत्तम साहू, भागीरथी साहू, मेहतरु राम, नारायण साहू, रामबगस साहू, दिलीप कुमार,कुबेर साहू, युवराज, लालचन्द साहू, पुसू राम, थानेश्वर आदि उपस्थित थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *