किसानों को चाहिए 32 लाख , मिलर ने जमा किया 10 लाख नहीं माने किसान जारी रहेगा अनिश्चचित कालीन धरना

छत्तीसगढ़


राजिम। अनिश्चित कालीन धरना और राजिम मंडी बंद के सातवें दिन चंद्रेश एग्रो इंडस्ट्रीज राजिम द्वारा 10 लाख रुपये जमा किया गया है जबकि 32 लाख रुपए की आवश्यकता है। बाकी 22 लाख कब मिलेगा इस पर एस डी एम, तहसीलदार और मंडी सचिव द्वारा यही कहा गया कि राईस मिलर धीरे धीरे जमा करेगा।
किसानों का एक ही माँग है कि मंडी निधि से भुगतान कर दिया जाए और मिल मालिक द्वारा धीरे धीरे अपने निधि में समायोजित कर ले वर्तमान में किसानों का समस्या तो सुलझ जाए, लेकिन अब तक प्रशासन ने कोई ठोस जवाब नहीं दिया है बल्कि सरकारी कामकाज में बाधा के नाम पर किसानों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का निर्देश मंडी प्रशासन को दे दिया। इससे किसानों का प्रशासन के खिलाफ जमकर आक्रोश है।
दूसरी ओर आज धरना सभा को समर्थन देने आए गरियाबंद जिला कांग्रेस के महासचिव विकास तिवारी, वरिष्ठ कांग्रेसी ताराचंद मेघवानी, रामकुमार गोश्वामी व रामकुमार साहू ने कहा कि हम विधायक अमितेश शुक्ल के प्रतिनिधि बनकर किसानों के आंदोलन को समर्थन करने आये हैं और हम सरकार से मांग करते हैं कि किसानों की जायज मांग को शीघ्र पूरा किया जाये। वस्तु स्थिति से विधायक अमितेश शुक्ल को अवगत कराएंगे।
धरना प्रदर्शन में किसान परिवार की महिलाएं सम्मिलित हुए और प्रशासन की रवैये को देखते हुए जेल भरो आंदोलन करने के लिए तैयार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *