सरपंच ने लिखा विकास कार्य के लिए सीएम को पत्र

छत्तीसगढ़

By।अविनाश वाधवा


तिल्दा नेवरा। सीएसआर के तहत ग्राम विकास नहीं कराये जाने की शिकायत ग्राम पंचायत बरतोरी के सरपंच श्रीमती पुष्पा सुमित सिंह ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से की है। सीएम को प्रेषित शिकायत पत्र में उन्होंने कहा है कि ग्राम पंचायत बरतोरी, विकासखंड तिल्दा, जिला रायपुर, छत्तीसगढ़ के ग्रामवासियों से पूर्व में जीएमआर रायखेड़ा के द्वारा कृषि भूमि को क्रय कर तिल्दा से रायखेड़ा कारखाने तक भूमि में लगभग 10 फीट गहराई करके रेलवे लाइन का निर्माण किया गया है। रेलवे लाइन का निर्माण गहराई में होने के फलस्वरुप बरसात के मौसम में बरसात का पानी पड़त भूमि से होते हुए गांव के लगभग 250 एकड़ कृषि भूमि एवं फसलीय या फसल एवं गांव के तालाब में भरता था। जिससे वर्ष भर ग्रामवासी कृषि कार्य एवं अपने निस्तारी का कार्य संपन्न किया करता था वह अब रेलवे लाइन के किनारे निर्मित नालियों के सहारे अन्यत्र होकर दूसरे जगह में चला जाता है। इसके कारण से ग्रामवासियों अपने खेतों में कृषि कार्य और निस्तारी कार्य के साथ भू जलस्तर में गिरावट जैसे पानी की समस्या उत्पन्न होने लगी है जिससे ग्रामवासियों को स्वयं अपने परिवार का आर्थिक एवं पारिवारिक स्थिति से संबंधित अनेक प्रकार के कठिनाइयों को सामना करना पड़ता है। कारखानों के द्वारा गहराई में निर्माण कार्य से ग्रामवासियों को, अपने खेतों ग्राम के मजदूरों, माध्यमिक विद्यालयों में अध्ययन छात्र-छात्राओं को अपने गंतव्य स्थान में आने जाने में असुविधा हो रही है। इसके फलस्वरूप आवागमन की सुविधा के लिए कारखाना प्रबंधन के द्वारा दो स्थानों पर अंडरब्रिज एवं ओवरब्रिज का निर्माण कार्य नहीं होने के कारण ग्रामवासियों के आवागमन में ग्रामीणजननों को कठिनाई होती है तथा ग्राम के मवेशियों की अकाल मृत्यु भी समय-समय के कारण ग्रामवासियों पर जीव हत्या का पाप लग रहा है। इस तरह से सरपंच श्रीमती पुष्पा सुमित सिंह के द्वारा सीएम को पत्र प्रेषित किये जाने के बाद अब गांव में विकास होने की उम्मीद ग्रामीणों के द्वारा जताई जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *