बिलासपुर से मालगाड़ी में बैठकर भटके परिवारों को तिल्दा में उतारे फिर…

छत्तीसगढ़

तिल्दा पुलिस और सामाजिक कार्यकर्ताओ भटके यात्रियों की मदत…

BY।अविनाश वाधवा

तिल्दा नेवरा। कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए देश को लॉक डाउन किया गया है । इस दौरान शासन ,प्रशासन किसी विषम परिस्थिति में भटके लोगों की सहायता कर रही। वही उनके गन्तव्य स्थान तक पहुचाने का भी कार्य कर रही। ऐसे लोगों पर विशेष निगरानी के साथ ही स्वास्थ्य जांच भी किया जा रहा। इसी क्रम में तिल्दा रेलवे स्टेशन में गुरूवार 26 मार्च को संपर्क क्रांति डाउन खाली रैंक ट्रेन पर अनाधिकृत रूप से कोच के अंदर महिला पुरुष एवं बच्चे पाये गये थे। जानकारी के मुताबिक यह बिलासपुर से मालगाड़ी में बैठकर भटककर तिल्दा नेवरा में उतरे गए। रेलवे स्टेशन के मुख्य प्रबंधक एवं रेलवे सुरक्षा बल के द्वारा उक्त ट्रेन प्लेटफार्म चार में रुकने के बाद उन सभी को तिल्दा में उतारे गए थे। इसमें 2 पुरुष 4 महिला और 4 बच्चे थे। इसकी सूचना मिलने ही मौके पर पुलिस पहुचीं। इस दौरान पुलिस और सामाजिक कार्यकर्ता के सहयोग द्वारा तिल्दा अस्पताल में चेकअप कराया गया । जांच में ये सभी स्वास्थ्य पाये गये है। यहां उन्हें मास्क भी दिए गए। वहीं रात्रि में उनके ठहरने की व्यस्था के साथ उन्हें भोजन कराया गया। उन्हें आज सुबह दूध और नास्ता की व्यवस्था कर खिलाकर निजी वाहन की व्यवस्था कर उनके निवास स्थान दुर्ग के लिए रवाना किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *