लॉक डाउन, भाई की मौत पर जा न सका अंतिम दर्शन , लाइव

छत्तीसगढ़

विडीयो कालिंग कर परिवार दुःखद घड़ी में हुआ शामिल

रायपुर। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव के कारण नियम भी शक्त हो गए । यह नियम शहरों की अपेक्षा गावों में शक्त देखने को मिल रहे। इन नियमों की वजह से छोटा भाई बड़ा भाई के अंतिम संस्कार में शामिल हो न सका। वजह ये रही कि गांव में बाहरी आदमी का प्रवेश वर्जित है। दरअसल रविवार को रायपुर जिले के तिल्दा नेवरा के सासा होली गांव में गोविंद यादव ,उम्र65 की मौत हो गई। वह लंबे समय से बीमार चल रहे थे। इसका छोटा भाई गंगू यादव रायपुर के कुशालपुर में रहता है। जब इसको मालूम हुवा की उसके बड़े भाई की मौत हो गई। यह सुनकर वह सन्न रह गया। कुछ देर बाद विस्तृत जानकारी लेने के लिए जब गंगू ने फोन लगाई तो । उसे कहा गया कि गांव वाले मना कर रहे। बाहरी आदमी का प्रवेश मना है। यह सुनकर वह बहुत दुखी हुवा। इसके बाद किसी तरह उसने अपने आप को आत्म शांत किया। ऐसे हालात में उसने लॉक डाउन और नियमों का सम्मान किया। मौजूद परिस्थिति में मृतक के अंतिम क्रिया कर्म में विडीयो कलिंग कर परिवार हुवा शामिल । इस दौरान परिवार घर पर रहकर मोबाइल पर अंतिम दर्शन के लाइव विडीयो देखकर मृतक को श्रद्धांजलि  अर्पित की । लॉक डाउन के दौरान इस तरह की घटना घटने पर आप मोबाइल पर विडीयो कलिंग कर परिवार की दुखद घड़ी में शामिल हो सकते है।

गावों पर बाहरी आदमी का प्रवेश रोक

कॅरोना वायरस की रोकथाम के लिए नियमों की शक्ति शहरों के साथ ही गांव में चल रही। लॉक डाउन की वजह से यातायात जैसी बहुत पर रोक लगा दी गई । वही गांवों के विभिन्न रास्तों पर सूचना लगा दी गई है, बाहरी आदमी का प्रवेश मना है। इस बीच कोई आ रहा तो उसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग या संबधित अधिकारी को दे रहे। लॉक डाउन का पालन लोग शक्ति से कर रहे। कॅरोना की जंग देश भर में जारी है जिसे हर हाल में हमें जीतना है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *