भावी शिक्षकों ने क्लासिक डांस के सीखे गुण

एजुकेशन छत्तीसगढ़

रायपुर। प्रगति महाविद्यालय चौबे कॉलोनी के शिक्षा विभाग ने दो दिवसीय कार्यशाला जन शिक्षण संस्थान के तत्वधान में क्लासिकल डांस कथक आयोजित किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ. सौम्या नैयर एवं विभागाध्यक्ष ने माँ सरस्वती के छाया चित्र में दीप प्रज्वलित कर किया । जन शिक्षण संस्था कलकत्ता शुचिस्मिता दत्ता के द्वारा प्रशिक्षण कराया गया, उन्होंने नृत्य के बारे में बताते में बताते हुए कहा कि नृत्य प्राचीन काल से ही हमारी संस्कृति की धरोहर हैं । नृत्य संगीत से हम अपनी परंपरा को जीवित रखते हैं इसके लिए आज के युग में भी इससे परिचित होना चाहिए , उन्होंने सभी शिक्षकों को संबोधित करते हुए कहा कि भावी शिक्षकों को नृत्य व संगीत की जानकारी होगी तो विद्यार्थियों को रुचिकर शिक्षण करा

सकती हैं , उन्होंने कत्थक के बारे में बताते हुए कहा कि इसके माध्यम से हम किसी भी लोक कथा का वर्णन कर सकते हैं, उन्होंने नृत्य के माध्यम से शिव तांडव, कृष्ण का माखन चुराना और कथक नृत्य की विभिन्न मुद्राओं को विद्या के माध्यम से विद्यार्थियों को प्रशिक्षित किया। इस कार्यक्रम में महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ सौम्या नैयर , ज्योति ठाकुर, वाणिज्य एवं प्रबंधन विभाग के विभागाध्यक्ष डॉक्टर, निमेष पांडे, शिक्षा विभाग के विभागाध्यक्ष डॉक्टर के.एन गजपाल , प्राध्यापको समेत शिक्षा विभाग के सैकड़ो छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *