लॉकडाउन: आंगनबाड़ी कार्यकर्ता नौनिहालों को अभिनय कर पढ़ा रहीं

छत्तीसगढ़

 

  रायपुर। कोविड- 19 संक्रमण से बचाव हेतु लगाए गए लॉकडाउन अवधि में आंगनबाड़ी के बच्चों के मानसिक विकास तथा उन्हें आंगनबाड़ी की गतिविधियों से जोड़े रखने के लिए आंगनवाड़ी कार्यकर्ता बच्चों के घरों में ही अभिनय के द्वारा पाठ पढ़ा रही हैं। कार्यकर्ता पहले महिला बाल विकास विभाग द्वारा तैयार वीडियो बच्चों को मोबाइल में दिखाती हैं। इसके बाद कार्यकर्ता स्वयं अभिनय कर बच्चों को गीतों, कविता और कहानियों के माध्यम से सिखाती हैं। बच्चों को आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओ की यह अनूठी पहल बहुत भा रही है और उन्हें घर मे ही आंगनबाड़ी का अहसास हो रहा है। कार्यकर्ता इस दौरान लॉकडाउन के निर्देशों तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग का भी बखूबी अनुपालन कराती हैं।

प्रदेश के दूरस्थ वनांचल क्षेत्र सरगुजा जिले में भी कार्यकर्ता अपने-अपने सेक्टर अन्तर्गत गांव के घरों में जा कर 3 से 6 वर्ष के 4-5 आंगनबाड़ी केंद्र के बच्चों को एक घर में एकत्र कर वीडियो दिखाकर और अभिनय करके सिखती हैं। कार्यकर्ताओं का अनुसरण कर बच्चे नए-नए पाठ प्रतिदिन सीख रहे हैं। बच्चों को वीडियो दिखाने और अभिनय को दोहराने के दौरान फिजिकल डिस्टेंसिंग के तहत कम से कम 1 मीटर की दूरी रखी जाती है। इस दौरान केवल बच्चों के पारिवारिक सदस्य उपस्थित रहते हैं। इस पूरी प्रक्रिया के लिए हितग्राही के घर में खुली जगह का चयन किया जाता है। वीडियो और अभिनय से बच्चों में सीखने की ललक जाग रही है और साथ ही उनका मनोरंजन भी हो रहा है। लाकडाउन के दौरान बच्चों को व्यस्त रखते हुए शिक्षा देने की पालक भी तारीफ कर रहे हैं। लॉकडाउन की अवधि में खेल-खेल में सीख एवं अन्य मनोरंजनपूर्ण गतिविधियों की यह पहल बच्चों में स्फूर्ति का संचार कर रही है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *