कार्रवाई : छह लाख की अवैध लकड़ी और सात लाख मूल्य के ट्रैक्टर-ट्रॉली जप्त

क्राइम छत्तीसगढ़

 रायपुर। वन विभाग द्वारा वनों की सुरक्षा और वन्यप्राणियों के अवैध शिकार पर नियंत्रण के लिए सतत् निगरानी रखी जा रही है। इस तारतम्य में प्रधान मुख्य संरक्षक राकेश चतुर्वेदी ने बताया कि राज्य के बलरामपुर वन मण्डल में लॉकडाउन अवधि 25 मार्च से 19 अप्रैल 2020 तक वन अपराध के 180 प्रकरणों में 161 अपराधियों के विरूद्ध कार्रवाई की गई है। इनमें लगभग 6 लाख रूपए की राशि के इमारती आदि लकड़ी के अवैध चिरान और लगभग 7 लाख रूपए की राशि के मोटर सायकिल तथा ट्रॉली सहित ट्रैक्टर की भी जप्ती की कार्रवाई की गई है। 
    
    इसके अलावा बलरामपुर वनमंडल के अंतर्गत परिक्षेत्र कुसमी तथा राजपुर में वन्य प्राणियों जंगली सुअर और चीतल के अवैध शिकार के कारण 9 अपराधियों के खिलाफ वन्य प्राणी, वन्य संरक्षण अधिनियम के तहत कार्रवाई करते हुए उन्हें न्यायालय राजपुर में प्र्रस्तुत किया गया है। इस दौरान वनमंडल बलरामपुर के वन मण्डलाधिकारी डॉ. प्रणय मिश्रा द्वारा गठित टीम द्वारा 9 वन परिक्षेत्रों बलरामपुर, रामानुजगंज, चान्दो, राजपुर, शंकरगढ़, कुसमी, वाड्रफनगर, धमनी तथा रघुनाथनगर में 730 नग इमारती लकड़ी के अवैध चिरान सहित 1047 बल्ली आदि जप्त किए गए। इनमें वनपरिक्षेत्र बलरामपुर में 35 हजार रूपए की राशि के 68 नग लकड़ी चिरान, रामानुजगंज में एक लाख 71 हजार रूपए के राशि के 96 नग लकड़ी चिरान और वाड्रफनगर में एक लाख 60 हजार रूपए के राशि के 371 नग लकड़ी चिरान शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *