कोटा से छात्रों की वापसी के बाद 14 दिन क्वारेंटाईन पीरेड में

छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ वापसी के लिए 26 अप्रैल को करनी होगी बोर्डिंग लोकेषन की रिर्पोटिंग

   

रायपुर। कल शाम राजधानी रायपुर से राजस्थान के कोटा में लाॅकडाउन के दौरान फंसे छात्र-छात्राओं को लाने कुल 97 बसों को रवाना किया गया है। इसमें 95 बस छात्रों को लाने के लिए तथा 2 बसों में डाॅक्टर और चिकित्सा दल के सदस्य गए हैं।

        छत्तीसगढ़ के निर्देशन पर छात्र-छात्राओं के लिए भोजन सहित आवश्यक व्यवस्थाओं का भी ध्यान रखा गया है। बसों के साथ डाॅक्टरों और अधिकारियों का दल भी भेजा गया है, ताकि छात्रों को रास्ते में किसी तरह की परेशानी न हो। अधिकारियों ने बताया कि कोटा से वापस आने पर इन बच्चों को 14 दिन के क्वारेंटाईन पर रखा जाएगा। उन्हें सीधे घर जाने की अनुमति नही होगी।

         राजस्थान के कोटा में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं या उनके अभिभावक 26 अप्रैल को परिवहन विभाग के मोबाइल नम्बर 89590-88986 पर सम्पर्क कर छत्तीसगढ़ वापस लौटने के बारे में अपने बोर्डिंग लोकेषन की जानकारी दे सकते हैं। बोर्डिंग लोकेषन के लिए लिए जानकारी देने के लिए निर्धारित समय इस प्रकार है।

       बस्तर संभाग (कांकेर, नारायणपुर, कोण्डागांव, दंतेवाड़ा, बीजापुर, सुकमा और बस्तर) के लिए रिपोटिंग टाइम षाम 4 बजे, सरगुजा संभाग (कोरिया, बलरामपुर, सूरजपुर, जषपुर और सरगुजा) के लिए साढ़े 4 बजे ,रायपुर संभाग (महासमुंद, बलौदाबाजार, गरियाबंद, धमतरी और रायपुर) के लिए साढे़ 5 बजे, दुर्ग संभाग (कवर्धा, कबीरधाम, बेमेतरा, बालोद, राजनांदगांव और दुर्ग) के लिए साढे छः बजे और बिलासपुर संभाग (मुंगेली, कोरबा, जांजगीर-चांपा, रायगढ़, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही और बिलासपुर) के लिए सात बजे निर्धारित की गई है।  

      कोटा में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को वापस छत्तीसगढ़ लाने के लिए बस्तर संभाग के लिए 06, सरगुजा संभाग के लिए 24, रायपुर संभाग के लिए 16, दुर्ग संभाग के लिए 14, बिलासपुर संभाग के लिए 28 बसों की व्यवस्था की गई है। इस संबंध में सभी कलेक्टरों को जिला षिक्षा अधिकारियों के माध्यम से कोटा में रहने वाले छात्र-छात्राओं तथा उनके पालकों तक बच्चों को वापस लाने के लिए की गई व्यवस्था की जानकारी से अवगत कराने के निर्देश दिए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *