करेली बड़ी पुलिस ने भटके बुजुर्ग को छोड़ा घर

छत्तीसगढ़

धमतरी।पुलिस अधीक्षक बी.पी. राजभानु के निर्देशन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनीषा ठाकुर रावटे के मार्गदर्शन में वैश्विक महामारी नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण के नियंत्रण एवं रोकथाम हेतु लाकडाउन के दौरान धमतरी पुलिस नित्य नये-नये प्रयोग करते हुए लगातार अपने कर्तव्यों का निर्वहन कर रही है। साथ ही जरूरतमंद की आवश्यक मदद भी कर रही है। थाना मगरलोड अंतर्गत चौकी करेली बड़ी प्रभारी उप निरीक्षक भूपेंद्र चंद्रा को पेट्रोलिंग के दौरान सूचना मिली कि एक अत्यंत बुजुर्ग व्यक्ति ग्राम परसट्टी में भटक रहा है, शायद उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। उक्त सूचना पर उपनिरीक्षक भूपेंद्र चंद्रा तत्काल सहायक उपनिरीक्षक एनआर साहू एवं पेट्रोलिंग स्टाफ के साथ ग्राम परसट्टी में बुजुर्ग व्यक्ति से मिलकर उन्हें स्वल्पाहार कराकर नाम पता पूछा तो उन्होंने अपना नाम समारू निषाद पिता स्वर्गीय रामचंद्र निषाद उम्र करीब 80 वर्ष निवासी नवापारा राजिम रायपुर बताते हुए कहा कि मेरी तबीयत ठीक नहीं है, पैदल घूमते घूमते यहां तक कैसे आ गया पता नहीं चला और मैं अपने घर भी वापस नहीं जा पा रहा हूं । तब पुलिस ने उनके पुत्र का मोबाइल नंबर ज्ञात कर संपर्क कर उसके पिता को ग्राम परसट्टी में होना बताया, जिस पर उक्त बुजुर्ग व्यक्ति का लड़का जुगनू निषाद बताया कि वह अपने पिता को खोज-खोज कर परेशान है तथा उसके पास कोई साधन नहीं होने से आने में असमर्थता जाहिर करने पर करेली बड़ी पुलिस ने मानवता का परिचय देते हुए 80 वर्षीय बुजुर्ग समारू निषाद को रात्रि में ही उनके घर नवापारा राजिम अपने पेट्रोलिंग वाहन से भेज कर उसके पुत्र जुगनू निषाद को सुपुर्द किया और उसे पिता का ध्यान देने हिदायत देते हुए कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के उपाय के बारे में बताया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *