कवियों ने कोरोना वॉरियर्स का सम्मान कविताओं से किया

अन्य राज्य मनोरंजन

पूर्वोत्तर हिंदी साहित्य अकादमी द्वारा कोरोना वॉरियर के सम्मान में “एक शाम मां भारती के नाम” ऑनलाइन कवि सम्मेलन का आयोजन

असम । पूर्वोत्तर हिंदी साहित्य अकादमी तेजपुर द्वारा कोरोना वॉरियर के सम्मान में “एक शाम मां भारती के नाम” ऑनलाइन कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। इस सम्मेलन में 6 राज्यों असम, मेघालय, मणिपुर, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़ से 30 कवियों ने हिस्सा लिया। इस दौरान कवियों ने कविताओं से कोरोना वारियर्स का सम्मान किया गया। यह रविवार 26 अप्रैल की रात चार घंटे तक चला जिसमें कवियों ने स्वरचित कविता पढ़ी । इस काव्य सम्मेलन में छत्तीसगढ़ रायपुर की कवित्री डा. गीता शर्मा ने भी हिस्सा लिया उनकी कविता गिरे हैं जो उनको उठाकर तो देखो, कभी पुण्य ये भी कमाकर तो देखो जिसे काफी सराहा गया। कार्यक्रम का संचालन ऋता सिंह सर्जना और कांता अग्रवाल काव्य समीक्षक के रूप में डॉ गोमा अधिकारी और प्रो पीयूष पांडे ने किया।


पूर्वोत्तर हिंदी साहित्य अकादमी,तेजपुर का परिचय

पूर्वोत्तर हिंदी साहित्य अकादमी,तेजपुर, असम की एक पंजिकृत न्यास है, 2015 मे रीता सिंह” सर्जना” ने इसकी स्थापना की है। पूर्वोत्तर में हिंदी की प्रचार प्रचार के लिए यह संस्था प्रतिबद्ध है।
अकादमी द्वारा ऑनलाइन कवि सम्मेलन तीसरी बार किया गया है।
इससे पहले 2019 और 2020 में 21 फरवरी को मातृभाषा दिवस पर ऑनलाइन कवि सम्मेलन का आयोजन किया था।

यह थे शामिल

ऑनलाइन कवि सम्मेलन में अनूप शर्मा, डॅा गीता शर्मा,कविता तिवारी, जादव शर्मा, कल्पना देवी आत्रेय, बिमला शर्मा, सौरव बोथरा जैन, डॉ अनीता पंडा, किशोर श्रीवास्तव, डॅा रुनू बरूआ” रागिनी”, डॉ गोमा अधिकारी , प्रो पीयूष पांडे,जयश्री शर्मा, ममता गीनोडिया, चेतना आर्य, जैश्री बोरो, अन्नपूर्णा बाजपेई,सरिता सिंह” स्नेहा”, मालविका राय मेधी दास, विशाल के सी, डैजी शर्मा, सागर सपकोटा, कुसुम तिब्रेवाल, स्मिता धिरासारिया, डायफिरा खरासती, जमुना दहाल, दीपाली सोढ़ी, अंजना जैन, कांता अग्रवाल,ऋता सिंह” सर्जना” उपस्थित थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *