चार दिवारी में कैद जिंदगी शौचालय की कमी , कहा सब सहना पड़ेगा : कैद मजदूर

छत्तीसगढ़

By। अविनाश वाधवा

खरोरा-समीपस्थ ग्राम कठिया में दो स्कूलो में तकरीबन 45 लोग जो हैदराबाद, तेलंगाना,व जांजगीर चापा से लौटे है उन्हें कोरेनटाइन किया गया । एक स्कूल में जहाँ 35 लोग कोरेनटाइन है वहाँ लोगो 2 ही शौचालय है अथवा एक खराब है ऐसे में 35 लोगो को एक ही शौचालय पर निर्भर होना पड़ रहा है जो बहुत मुश्किल का काम है अथवा उनकी समस्या यही खत्म नही होती वही उनके द्वारा खाना समय पर न मिलने की भी शिकायत की गई व उनका कहना है अभी कैद है सब सहना पड़ेगा व उनकी समस्या कम होते नही दिखरी ?।वही जब इस संदर्भ में जब गांव के सरपंच दाऊ लाल पाल से बात की गई तो सरपंच ने भी उनकी खामिया बताई व गांव के बुजुर्गों के समक्ष उनको सरपंच का भी सहयोग करने की अपील की गई । अब शासन के फैसले पर सवाल उठता है की जब व्यवस्था ही नही थी तो बाहर राज्यों से मजदूरों को क्यों लाया गया ?
वही इनके आने के बाद से कोई भी प्रशासनिक अधिकारी इनकी तरफ देखने भी नही आया ??

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *