अधिक मूल्य में नमक बेचने वाले दुकानदार पर 1000 रु. जुर्माना

छत्तीसगढ़

धमतरी। जिले में कोविद-19 कोरोना वायरस के संक्रमण से रोकथाम के लिए राजस्व, खाद्य, नापतौल, खाद्य एवं औषधि प्रशासन तथा नगरनिगम के संयुक्त जांच दल द्वारा गुरुवार को जिले के विभिन्न व्यापारिक प्रतिष्ठानों का औचक निरीक्षण किया गया। इस मौके पर दल द्वारा बाजार में दैनिक उपभोग की आवश्यक वस्तुएं जैसे चावल, दाल, आलू, प्याज, गेहूं, नमक, तेल, आटा इत्यादि की उपलब्धता एवं कीमतों के संबंध में व्यापारिक प्रतिष्ठानों की जांच की गई।
खाद्य अधिकारी से मिली जानकारी के मुताबिक शहर में नमक के कमी होने के संबंध में अफवाह होने की वजह से उपभोक्ताओं द्वारा आवश्यकता से अधिक मात्रा में नमक क्रय कर संग्रहित किया जा रहा है। कुछ व्यापारियों द्वारा कृत्रिम अभाव बताकर उपभोक्ताओं से नमक का निर्धारित मूल्य से अधिक मूल्य पर विक्रय करने की शिकायत मिली थी। इसके मद्देनजर संयुक्त दल द्वारा नगरी के हरीश किराना स्टोर्स अमाली में अधिक दर पर नमक विक्रय करते पाए जाने पर एक हजार रूपए दण्ड शुल्क वसूली की गई तथा भविष्य में अधिक दर नहीं लेने संबंधी चेतावनी दी गई।
इसी तरह नगरी के राहुल ट्रेडर्स अमाली, कुरूद के गुड्डा गैरेज, विक्क ट्रेडर्स द्वारा गुटखा एवं गुड़ाखू के परिवहन/विक्रय किए जाने पर साढ़े छः हजार रूपए जुर्माना राशि वसूली की गई। इस तरह दल द्वारा आज कुल साढ़े सात हजार रूपए की जुर्माना राशि वसूली गई। खाद्य अधिकारी ने बताया कि व्यापारियों के पास पर्याप्त स्टॉक उपलब्ध है। जिले में नियमित रूप से नमक की मांग के अनुसार पूर्ति की जा रही है। प्रशासन द्वारा सभी व्यापारियों को नमक के साथ-साथ अन्य आवश्यक वस्तुओं की पूर्ति बनाए रखने एवं निर्धारित मूल्य पर विक्रय करने के निर्देश दिए गए हैं। साफ तौर पर कहा गया है कि निर्धारित मूल्य से अधिक मूल्य में विक्रय करते पाए जाने पर संबंधित प्रतिष्ठान/व्यापारियों के विरूद्ध नियमानुसार वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।
                                             

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *