सिहावा विधायक ने वनवासियो के आजीविका विकास हेतु अंत्योदय वाटिका कार्यक्रम का शुभारंभ..

Uncategorized

By. धर्मेंद्र साहू

सिहावा विधायक डॉ. लक्ष्मी ध्रुव के करकमलों द्वारा सोमवार को नगरी विकासखंड के अंतर्गत 06 ग्राम पंचायतो में आदिवासी वन अधिकार पट्टाधारी परिवारों के आजीविका संवर्धन हेतु निजी भूमि में फलदार पोधों का वृक्षारोपण सह आजीविका के कार्यों का शुभारंभ किया गया.  इस कार्यक्रम मे ग्राम झुंझराकसा मे 37 एकड़ ,दौड़पंडरीपानी 30 एकड़ ,गजकन्हार 33 एकड़ ,गुहाननाला 20.48 एकड़,दिनकरपुर 45 एकड़ ,बांधा 34.45 एकड़ भूमि मे फलदार पौधे,फेंसिंग तार एवं सिंचाई हेतु बोर खनन कर वनवासियों के आजीविका हेतु प्रयास किये जा रहे है.
यह कार्यक्रम ग्राम की महिला स्व सहायता समूह के द्वारा जिला प्रशासन के सहयोग से किसानों की आय बढ़ाने के उद्देश्य से संचालित किया जा रहा है.

इस दौरान महिला स्व सहायता समूह की महिलाओं ने इस कार्यक्रम की पूरी कार्ययोजना को सभी को विस्तृत मे समझाया की सबसे पहले महिला समूह द्वारा अपने ग्राम के कृषि भूमि का एक मानचित्र बना कर पानी के बहाव, बंजर क्षेत्र का चिन्हांकन कर पानी के बहाव, कम बहाव को आधार बनाकर उनके अनुरूप चिन्हांकित जगहों पर फलदार पोधों का वृक्षारोपण का पूरा प्रोजेक्ट जिला प्रशासन के सहयोग से बनाया गया।
इस योजना के माध्यम से फसल चक्र पूरा होगा एवं सब्जियां, दलहन,तिलहन,धान जैसे फसलों का उत्पादन बढेगा।

कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने बताया कि नरेगा एवं जिला खनिज न्यास फंड के माध्यम से भूमि सुधार कार्य हो रहा है. इस कार्य को पूरी जिला प्रशासन की टीम द्वारा महिला स्व सहायता समूह के माध्यम से किया जा रहा है. यह कार्ययोजना तब सफल होगी जब  ग्रामीणों द्वारा रोपे गए पौधों का संरक्षण कर उनकी नियमित देख रेख की जाएगी।
इस दौरान कार्यक्रम की मुख्य अतिथि सिहावा विधायक डॉ. लक्ष्मी ध्रुव ने ग्रामीणों को सम्बोधित करते हुवे कहा कि सबसे पहले इस योजना के लिए  जिला प्रशासन की पूरी टीम बधाई की पात्र है जिनके सहयोग एवं मार्गदर्शन से 6 ग्राम पंचायतों मे कुल 203 एकड़ भूमि पर लगभग 1.67 करोड़ की लागत से इस योजना को वनवासिंयों के आजिविका विकास हेतु विकसित कर  मेड बांधन, समतलीकरण, गढ़ा खुदाई,निजीभूमि पर डबरी निर्माण, चैनलिंक फेंसिंग,बोर खनन,टपक सिंचाई ड्रिप पाईप ,पौधरोपण कार्य किया जा रहा है ग्रामीणों द्वारा इस परियोजना का संवर्धन, संरक्षण एवं प्रबंधन कर आय के नए साधन विकसित होंगे जिससे ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती मिलेगी एवं ग्राम की महिलायें सशक्त एवं आत्मनिर्भर बन सकेंगे.
उक्त कार्यो के क्रियान्वयन में मनरेगा, DMF, उद्यानिकी, कृषि विभाग  के सहयोग से कार्य करवाये जा रहे है. इस कार्यक्रम मे जिला कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य, जिला पंचायत सीईओ नम्रता गांधी,ई ई ग्रामीण एवं पंचायत विभाग जे एल ध्रुव,जनपद सीईओ पी आर साहू,एल एल ध्रुव, विधायक प्रतिनिधि रुद्र् प्रताप नाग,भूषण साहू,जनपद सदस्य कुशल नेताम,जनपद सदस्य ईश्वर पटेल,शोभी राम नेताम,जावेद मेमन,प्रदीप साहू,सविता साहू,भीष्म साहू,सोहेल मंसूरी,अकरम खान,ईशु अली एवं ग्रामीणजन उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *