भूपेश सरकार की नीतियों से ग्रामीण अर्थव्यवस्था हुई मजबूत : आफताब आलम

Uncategorized


० छत्तीसगढ़ देश का मॉडल राज्य बनने की ओर अग्रसर


राजनांदगांव। कांग्रेस नेता आफताब आलम ने कहा कि भूपेश सरकार की क्रांतिकारी योजनाओं से छत्तीसगढ़ देश का मॉडल राज्य बनने की ओर अग्रसर है। सरकार की गोधन न्याय योजना, नरवा, गरूवा, घुरवा, बाड़ी तथा किसान न्याय योजना ग्रामीण अर्थव्यवस्था के लिए अमृत साबित हुई है। उन्होंने कहा कि इन योजनाओं से छत्तीसगढ़ की पलायन करने की पुरानी परंपरा पर भी विराम लगेगा। ग्रामीण विकास पर केंद्रित यह योजना ग्रामीण आत्मनिर्भर बनेंगे। वहीं ग्रामीण अर्थव्यस्था भी मजबूत होगी।
कांग्रेस नेता श्री आलम ने आगे कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना काल में सरकार की कृषि समेत अन्य योजनाओं से रोजगार की समस्या भी दूर हुई है। ग्रामीणों को सरकार ने गांव में ही मनरेगा के जरिये रोजगार मुहैया कराकर भरण-पोषण की समस्या से मुक्ति दिलाई है। रेडी-टू-ईट जैसे कार्यक्रम भी छत्तीसगढ़वासियों को अत्याधिक लाभप्रद साबित हुआ है।
उन्होंने कहा कि भाजपा ने सिर्फ गाय को प्रतिकात्मक रूप से राजनीतिक पशु की तरह इस्तेमाल किया है, जबकि भूपेश सरकार ने गाय को कामधेनु की महत्ता को प्रतिपादित कर जमीनी रूप से उसका क्रियान्वयन भी किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की तमाम योजनाएं छत्तीसगढ़ की सांस्कृति महत्ता से भी जुड़ी हुई है। राम-वन गमन योजना हमारी पुरातात्विक, धार्मिक एवं सांस्कृतिक धरोहर से युवा पीढ़ी को परिचय कराती है। हरेली-तीजा त्यौहार के माध्यम से सरकार ने राज्य की पारंपरिक मूल्यों का बखूबी महत्व दिया है।

श्री आलम ने कहा कि कांग्रेस एकमात्र पार्टी है, जो राष्ट्रवाद की प्रासंगिकता को सार्थक बनाए हुए हैं तथा देश के राष्ट्रीय व्यवसाय कृषि को अपनी आत्मा में बसाकर नीति-निर्धारण करती है। चूंकि कांग्रेस की बुनियाद में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की विचारधारा है। जिनके अनुसार इस देश की आत्मा गांव में बसती है। उन्होंने कहा कि भूपेश सरकार इसी विचारधारा और भावनाओं को आत्मसात करते हुए आत्मसात करते हुए कार्य कर लोगों तक पहुंच रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *