फीकी रही रक्षाबंधन पर मिठाईयों की “मिठास”


By.
अविनाश वाधवा


तिल्दा नेवरा:-भाई-बहन के पावन रिश्ते का त्यौहार रक्षाबंधन बिना मुंह मीठा किए पूरा नहीं होता। इस मौके पर मिठाई कारोबार गुलजार रहता था लेकिन इस साल कोरोना की वजह से इस कारोबार पर तगड़ी चपत लगी है। तिल्दा के मिठाई व्यापारियों का कहना है कि लोगों के मन में बैठा कोरोना का डर कारोबार को नीचे गिरा रहा और राज्य सरकार द्वारा इस तरफ बिल्कुल भी ध्यान नहीं दिया गया जिसके चलते इस साल रक्षाबंधन पर मिठाइयों की बिक्री घटकर आधी रह गयी है| नगर के मिठाई व्यापारियों का साफ कहना है कि कोरोना के कारण रक्षाबंधन (सोमवार) से ठीक पहले पड़ने वाले शनिवार और रविवार को मिठाइयों की दुकानें खोलेने की अनुमति मिलने को लेकर अंतिम पलों तक भारी असमंजस बना रहा, जिसने इस धंधे की रही-सही कमर भी तोड़ दी। नतीजतन रक्षाबंधन पर इस सरकारी कुप्रबंधन के कारण मिठाई उद्योग पर महामारी की मार बढ़ गयी, जबकि दुकानें खोलने की मंजूरी के बारे में प्रशासन द्वारा समय पर निर्णय लेकर इसे कम किया जा सकता था| बाजारों में सन्नाटा होने के लिए व्यापारियों ने प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया है|

NEWS27_REPORTER

http://news27.org

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *