By. शिवचरण सिन्हा

दुर्गुकोंदल:- श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर दुर्गुकोंदल में भी वातावरण न्यारी हो गई। श्रद्धा की बयार में तन-मन झूम रहा है। सुबह से ही शिवालय से भागवत भजन में आराध्य को स्तुतियों अर्पित करते ही जन्मोत्सव का उत्साह सातवें आसमान पर पहुंच गया। भजन गायन से तन -मन झंकृत हो उठा। भगवान श्रीकृष्ण जन्मोत्सव पर देश-दुनिया की आस्था श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर सिमट जाती है। इस वर्ष कोरोनाकाल के कारण श्रद्धालुओं का भीड़ नही दिखा परन्तु उत्सव मनाने का उल्लास देखते ही बन रहा है। सुबह से ही सद्भावना भवन में पतंजलि योग समिति,प्रगति लेडिस ग्रुप ,माँ बंजारी मानस परिवार बांगाचार के द्वारा पुष्पांजलि कार्यक्रम भजन,रामायण ,राधा कृष्ण सजाओ प्रतियोगिता आयोजित किया गया। जे गौतम, उत्तरा वस्त्रकार,मनीषा सिन्हा, बांगोमा चक्रबर्ती, पूजा सरकार,नमिता राय, रीता वस्त्रकार,सुनीता ध्रुव,कल्पना जुर्री, मोनालिशा रॉय द्वारा श्रीराधाकृष्ण के श्रीविग्रह के चरणों में पुष्पांजलि अर्पित की गई। पतंजलि योग समिति के प्रमुख संजय वस्त्रकार, शंकर नागवंशी ने पुष्प अर्पित किए। भागवत भवन में आस्था की अविरल धारा बह निकली। हर तरफ उल्लास छा गया। भजनों पर श्रद्धालु झूम उठे। श्रद्धा की अविरल धारा बह निकली। ये पहला मौका है, जब कोरोना काल के चलते जन्मस्थान और अन्य मंदिरों में श्रद्धालुओं को प्रवेश नहीं दिया जा रहा है ।
बरसों बाद आज इंद्रदेव भी मेहरबान हैं, तड़के तीन बजे से बरसात की झड़ी लगी हुई है। वर्ना बीते कई दिनों से दिन सूखी ही जा रही थी। कोरोना वायरस संक्रमण काल के चलते इस बार बदलाव हुआ है। राधा कृष्ण प्रतियोगिता में यशस्वी साहू,मिताली देवांगन, यशस्वी भ्रातद्वाज, साई साहू,उत्कर्ष वस्त्रकार, अनन्या चक्रबर्ती ने भाग लेकर आयोजको का मन मोह लिया।

NEWS27_REPORTER

http://news27.org

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *