दुर्गूकोंदल :   हायरसेकंडरी स्कूल इरागांव में पालकों ने बच्चों को  नहीं पढ़ाने का लिया निर्णय

प्रधानपाठक ने पालकों की सहमति बिना 22बच्चों का स्थानांतरण पत्र हायर सेकंडरी इरागांव के प्राचार्य को दे दिया

By. शिवचरण सिन्हा

दुर्गुकोंडल. विकासखंड दुर्गूकोंदल के ग्राम झर्रीपारा, बरहेली, कपालीपारा के पालकों ने कक्षा 8वीं उत्तीर्ण छात्र छात्राओं को हायरसेकंडरी स्कूल इरागांव में नहीं पढ़ाने का निर्णय लिया। इस निर्णय को लेकर पालकों ने विकासखंड दुर्गूकोंदल के सीईओ और बीईओ के समक्ष लिखित आवेदन देकर शिकायत दर्ज कराई है। ग्रामीण न जोगीराम, राजूराम, दाऊराम, गैंदलाल, नारायण सिंह, हरिलाल, धनेश, चमराराम, बिरबल, श्यामप्रसाद, मंगलसिंग, श्रीराम, मनहेर, नोहरू ने बताया कि बरहेली, कपाली, झर्रीपारा के बच्चे माध्यमिक शाला बरहेली से कक्षा 8वीं से उत्तीर्ण हुए हैं। लेकिन पालकों की सहमति लिये बिना प्रधानपाठक ने 22बच्चों की स्थानांतरण पत्र हायर सेकंडरी इरागांव के प्राचार्य को दे दिया। हम सभी पालक अपने बच्चों को इरागांव में पढ़ाना नहीं चाहते हैं। फिर भी जबरन टीसी दे दी गई है। हम दूसरे स्कूल में पढ़ाने अपने बच्चों को भेजना चाहते हैं। लेकिन इरागांव के प्राचार्य हमें स्थानांतरण प्रमाणपत्र वापस नहीं दे रहे हैं। जिससे दूसरे स्कूलों अपने बच्चों को पढ़ाने नहीं भेज रहे हैं। इन्होंने सीईओ और बीईओ को लिखित आवेदन देकर टीसी जल्द दिलाने की मांग की है। वहीं ग्रामीणों की आवेदन पर बीईओ केशव साहू ने ग्रामीणों से कहा कि आपके आवेदन की जानकारी जिला शिक्षा अधिकारी को दूंगा। उचित मार्गदर्शन मिलने पर ही टीसी दी जायेगी। अन्य आप सभी जिले के अधिकारी से मिल सकते हैं। इस दौरान सीईओ केएल फाफा, जनपद अध्यक्ष संतो दुग्गा, उपाध्यक्ष मनीषा मंडावी उपस्थित थे।

NEWS27_REPORTER

http://news27.org

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *