• बिना मास्क लगाये घुमने वालों पर 500 रूपए के जुर्माना लगाने का निर्देश


जशपुरनगर 06 अप्रैल 2021।कलेक्टर महादेव कावरे ने आज मोबाईल एप्लीकेशन के माध्यम से साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक ली और अधिकारियों को अपने-अपने ब्लॉक में कोरोना संक्रमण से लोगो को बचाने के लिए विशेष प्रयास करने के दिये निर्देश। उन्होनें कहा कि कोरोनो संक्रमण के सुरक्षा एवं बचाव के लिए लोगो को जागरूक करना बेहद जरूरी हैं किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं चलेगी। बिना मास्क लगाये घुमने वालों पर 500 रूपए का जुर्माना लगाये और लापरवाही करने वालों पर कार्यवाही करने के सख्त निर्देश दिये हैं। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक श्री बालाजी राव, वनमण्डलाधिकारी श्रीकृष्ण जाधव, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री के.एस.मण्डावी, सभी एसडीएम, जनपद सीईओ और जिला स्तरीय अधिकारी सीधे जुड़े थे।
कलेक्टर ने एसडीएम को निर्देश देते हुए कहा कि जिन ब्लॉकों में कंटेनमेंट जोन बनाया गया है वहॉ बर बेरिकेटिंग लगाये। ग्राम पंचायतों में कोटवारों के माध्यम से मुनादी करा दें और नगरीय क्षेत्रों में माईक के माध्यम से सूचना कराने के निर्देश दिये हैं। उन्होनें कहा कि कंटेनमेंट जोन में सभी लोगो को कड़ाई से पालन करने के लिए कहें और प्रतिबंधित क्षेत्र में किसी भी व्यक्ति को बहार आने-जाने की अनुमति न दें, ताकि संक्रमण की कड़ी को तोड़ा जा सके। उन्होनें ने कहा कि लोगो की सुविधा के लिए पेट्रोल पंप, मेडिकल स्टोर, गैंस की दुकान को छूट प्रदान की गई है। भिड़-भाड़ पर नियंत्रण रखें और लोगो को दूरी बनाकर बाजार लगाने के लिए कहें।
कलेक्टर ने गोधन न्याय योजना की समीक्षा करते हुए खाद बनाने की धीमी प्रगति पर नाराजगी जाहिर की। जिन ग्राम पंचायतों में गौठान के लिए भूमि का चिन्हांकन नहीं किया गया है वहॉ पर गौठान के लिए शीघ्र भूमि का चिन्हांकन करके प्रस्ताव बनाकर भेजने के निर्देश दिये हैं और समूह की महिलाओं को मल्टीएक्टीविटी से जोड़ने  के भी निर्देश दिये हैं। उन्होनें उद्यान विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि विभाग को 50 सोलर ड्रायर उपलब्ध कराया गया है। उसको गौठानों में समूह को देने के निर्देश दिये हैं, ताकि महिलाए उसका उपयोग कर सकें। उन्होनें कहा कि गौठानों में उन्नत और आधुनिक तकनीकी से मछली पालन के लिए महिलाओं को जोड़े। कृषि विज्ञान केन्द्र द्वारा कम लागत से कम जगह पर बायोफ्लैश पद्धति से मछली पालन किया जा रहा है इस विधि को गौठान की समूह की महिलाओं को प्रशिक्षण देकर बायोफ्लैश पद्धति से मछली पालन के लिए जोड़ने के निर्देश दिये हैं। गौठान मे बनाये जा रहे लकड़ी का उपयोग अंतिम संस्कार, ढाबा, होटलों में भी करने के लिए कहा गया है।
उन्होनें कहा कि खनिज न्यास निधि की स्वीकृति अब ऑनलाईन के माध्यम से दी जायेगी। इसके लिए संबंधित अधिकारियों को डिजीटल हस्ताक्षर के लिए आधार कार्ड और पेन कार्ड की आवश्यकता पडे़गी। डिजीटल हस्ताक्षर के आधार पर ही अब स्वीकृति दी जायेगी। कलेक्टर ने सीमाकंन, नामांकन, बटांकन के प्रकरणों का निराकरण गंभीरता से करने के निर्देश दिये हैं। टीएल के लंबित प्रकरणों की गहन समीक्षा करते हुए लंबित आवेदनों का समय-सीमा में निरांकरण करने के लिए कहा गया है।

NEWS27_REPORTER

http://news27.org

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *