GPF द्वारा विश्व विख्यात कलाकार पं.रोनू मजूमदार की कार्यशाला 12 मई को

एजुकेशन छत्तीसगढ़

रायपुर।GPF गुनरस पिया फाउंडेशन द्वारा आयोजित ,पण्डित रोनू मजूमदार की छतीसगढ़ के संगीत प्रेमियों,छात्र गायकों व बाँसुरी वादकों के साथ दिनांक 12 मई रविवार को ,आनन्दसमाज वाचनालय,सभागृह,कंकालीपारा में ,सुबह 10 बजे से ,एक कार्यशाला आयोजित की गई है।जिसमे पण्डित रोनू मजूमदार शास्त्रीय ,उपशास्त्रीय व सुगम गायको तथा बांसुरीवादको को निम्नांकित विषयों पर टिप्स देंगे।

1- बेहतर कलाकार कैसे बने।
2-बेहतर मंच प्रदर्शन कैसे करें।
3-शुरुवात में बाँसुरी का रियाज़ कैसे करें।
4- गायन ,वादन में,माइक्रोफोन का उपयोग कैसे करे।
5-बाँसुरी वादन में श्वसन की भूमिका।
6-बाँसुरी वादन को सहज कैसे बनाएं।
7-रागों का अभ्यास बाँसुरी पर कैसे करें।
8-गायन में कैसे रियाज़ करें।
9-गायन में स्वर अभ्यास कब और कैसे करें।
10- अपने गायन वादन की कमियाँ कैसे पहचाने,और दूर करें।
विदित हो कि पण्डित मजूमदार पहले भी गुनरस पिया के मंच अपनी सुरीली बाँसुरी की धुनें बिखेर चुके हैं।छतीसगढ़ के राष्ट्रीय ख्यातिप्राप्त संगीतज्ञ पण्डित गुणवन्त व्यास को अपने गुरुतुल्य मानने वाल पं. रोनू मजूमदार इस बार पुनः गुनरस पिया फाउंडेशन के विशेष आग्रह पर पधार रहे है। सँस्था की संयोजक प्रज्ञा त्रिवेदी ने बताया कि कार्यशाला में भाग लेने के इच्छुक ,अपने नाम ,अनुभूति स्टेशनरी सिटी कोतवाली चौक,महात्मा गांधी परिसर के सामने, भरकर जमा कर दें,अन्य जानकारी हेतु सँस्थान के सदस्यों के नम्बर 9425517032,8602013672 पर सम्पर्क कर सकते हैं। सीमित सीट्स होने के कारण पहले आओ पहले पाओ नियम के तहत केवल 100 सीट्स ही ली जाएंगी। कृपया अपने नाम पाँच मई तक रजिस्टर करवा कर पावती ले लें,एवम कार्यशाला स्थल में पावती अवश्य लेकर आएं ,दिनांक 5 मई के बाद नाम रजिस्टर नही किये जाएंगे और न ही स्पॉट रेजिस्ट्रेशन होगा।रेजिस्ट्रेशन का समय सुबह 10.30 से रात्रि 9 तक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *