जशपुर : मुख्यमंत्री ने स्वामी आत्मानंद के 10  मेघावी  छात्र को किया  सम्मानित




जशपुरनगर 23 मई 2021.मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज अपने निवास कार्यालय में आयोजित प्रतिभा सम्मान समारोह के वर्चुअल कार्यक्रम में माध्यमिक शिक्षा मंडल की वर्ष 2019 एवं वर्ष 2020 की 10वीं एवं 12वीं बोर्ड की परीक्षा में प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त करने वाले मेघावी  छात्र-छात्राओं एवं विशेष पिछड़ी जनजाति के प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को स्वामी आत्मानंद मेघावी  छात्र प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत मेडल और प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया। उन्होंने सभी प्रतिभावान छात्र-छात्राओं सहित उनके पालकों और शिक्षकों को बधाई और शुभकामनाएं दी।
    मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि प्रतिभा सम्मान समारोह का यह पल अत्यंत गौरवशाली है। उन्होंने कहा कि शिक्षा से ही जीवन लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है। इससे जीवन को सकारात्मक दिशा मिलती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आप सब देश और प्रदेश के भविष्य हैं। उन्होंने प्रतिभावान विद्यार्थियों से ज्ञान-विज्ञान, कला, संस्कृति, प्रशासन सहित सभी क्षेत्रों में विकास के नए आयाम स्थापित करने का आव्हान किया। स्वामी आत्मानंद मेघावी छात्र प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को 1.50 लाख रूपए की राशि दी जाती है। बैठक में स्कूल शिक्षा मंत्री डाॅ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभावान विद्यार्थियों को बधाई और शुभकामनाएं दी। उन्होंने उम्मीद जतायी की प्रतिभावान विद्यार्थी राज्य के विकास एवं सामाजिक उत्थान में अपना योगदान देंगे। इस मौके पर अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू, प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा डाॅ. आलोक शुक्ला, संचालक लोक शिक्षण श्री जितेन्द्र शुक्ला उपस्थित थे।

इसी प्रकार  जशपुर के एनआईसी सेंटर से कलेक्टर महादेव कावरे, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री के.एस. मंडावी, जिला शिक्षा अधिकारी श्री एन. कुजूर, प्राचार्य संकल्प शिक्षण संस्थान श्री विनोद गुप्ता, डीएमसी श्री विनोद पैंकरा, विद्यार्थीगण उनके प्राचार्य सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री बघेल ने जशपुर जिले के वर्ष 2020 में शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय महादेवडांड़ से 12वी परीक्षा उत्तीर्ण करने वाली विशेष पिछड़ी जनजाति की कुमारी अनिता बाई एवं संकल्प शिक्षण संस्थान से कक्षा दसवीं की परीक्षा उत्तीर्ण होने वाले विद्यार्थी योगेश कुमार सिदार से बात करते हुए उन्हें बधाई देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं प्रदान की। बच्चों ने भी मुख्यमंत्री को अपना परिचय देते हुए उनके प्रति आभार व्यक्त करते हुए धन्यवाद अर्पित किया। उन्होंने कहा कि कलेक्टर एवं जिला स्तरीय अधिकारियों के मध्य उपस्थित रहकर मुख्यमंत्री  से बात करते हुए वे खुद को गौरवान्वित महसूस कर रहे है।


मुख्यमंत्री ने इस दौरान विद्यार्थियों से एक-एक कर उनकी पारिवारिक पृष्ठभूमि और उनके जीवन लक्ष्य के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने विशेष पिछड़ी जनजाति की छात्रा कुमारी अनिता से उनके परिवार एवं शिक्षा के संबंध में जानकारी लेते हुए कहा कि वह समाज के लोगो के लिए प्रेरणास्रोत है तथा अनिता से अपने  परिवार और आस पास के लोगो को भी शिक्षा के लिए प्रोत्साहित एवं जागरूक करने की बात कही। कुमारी अनिता ने मुख्यमंत्री श्री बघेल को बताया कि वे आगे चलकर शिक्षक बनाना चाहती है जिससे वे अपने समाज के पिछड़े लोगों को आगे बढ़ाने के लिए उन्हें प्रेरित कर सके। उन्हें शिक्षा प्रदान कर सके एवं मुख्य धारा से जोड़ने के लिए प्रयास कर सके। इसी प्रकर योगेश ने बताया कि वे आगे आईआईटी परीक्षा की तैयारी करेंगे।


मुख्यमंत्री ने सभी बच्चों को खूब मेहनत करने एवं सफलता हासिल कर अपने माता-पिता के साथ ही राज्य का नाम रोशन करने की आशीष प्रदान की। उन्होंने कहा कि आपके सफल होने से शिक्षा का स्तर ऊपर उठेगा, साथ ही जीवन स्तर में सुधार होगा।  उन्होंने कहा कि शिक्षा के साथ साथ विद्यार्थी का आचार- विचार भी सुंदर होना चाहिए इसलिए अच्छे लोगों की संगत अपनाए, अच्छे जिम्मेदार नागरिक बनने के लिए बच्चों को प्रेरित किया।
मुख्यमंत्री बघेल की ओर से कलेक्टर श्री कावरे द्वारा सभी बच्चों को सम्मानित करते हुए प्रमाण पत्र प्रदान किया गया। कलेक्टर एवं सीईओ जिला पंचायत श्री मंडावी ने भी विद्यार्थियों का मनोबल बढ़ाते हुए उन्हें कड़ी मेहनत करने एवं  सफलता अर्जित  करने हेतु प्रोत्साहित किया साथ ही उन्हें उनके उज्जवल भविष्य हेतु अपनी शुभकामनाएं प्रदान की। साथ ही स्वामी आत्मानंद मेघावी छात्र प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत विद्यार्थियों के खाते में 1.50 लाख रूपए जमा की गई है।


उल्लेखनीय है कि जशपुर जिले के वर्ष 2019 एवं 2020 के कक्षा दसवीं एवं बारहवीं की परीक्षा में प्रावीण्य सूची में 10 बच्चों ने स्थान प्राप्त किया। जिन्हें आज स्वामी आत्मानंद मेघावी छात्र प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत  प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया। जिसमें जिला प्रशासन की सहयोग से डीएमएफ मद से संचालित होने वाले संकल्प शिक्षण संस्थान के 7 विद्यार्थी, आस्ता में संचालित प्रयास में अध्ययनरत एक  विद्यार्थी, महादेवडांड़ के शासकीय विद्यालय की एक एवं नोट्रेडमे कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय की एक विद्यार्थी शामिल है।

NEWS27_REPORTER

http://news27.org

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *