मनोज सिंह मंडावी छत्तीसगढ़ विधानसभा उपाध्यक्ष


कांकेर /चारामा/ भानुप्रतापपुर दुर्गुकोंडल/6 जून 2021 छत्तीसगढ़ विधानसभा उपाध्यक्ष एवं विधायक भानुप्रतापपुर के मनोज सिंह मंडावी ने कहा है कि शिक्षा विभाग में अनुकंपा नियुक्ति प्रकरणों के तीव्र निराकरण पर खुशी जताई है. उन्होंने इसे भूपेश सरकार के नीति और निर्णय का प्रतिफल बताया है. मनोज सिंह मंडावी ने प्रदेश की मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आभार प्रकट करते हुए कहा कि इनकी मुहिम से बेसहारा परिवार को सरकार ने सहारा दिया है.


उन्होंने कहा कि अनुकंपा नियुक्ति के सभी मामले सरकार के द्वारा नियमों में बदलाव करते हुए अनुकंपा नियुक्ति में सुधार करके. उसके बाद सरकार ने नियम में बदलाव किया. तब दिवंगत शिक्षकों के परिजनों को नियुक्ति मिली. सरकार ने अनुकंपा नियुक्ति में 10 प्रतिशत सीलिंग को शिथिल करने का फैसला लिया था. इसी फैसले ने दिवंगत शिक्षकों के बेसहारा परिवार का तकदीर बदल दिया है.
गौरतलब है कि शिक्षा विभाग में अनुकंपा नियुक्ति के 500 से अधिक पुराने प्रकरण वर्षों से लंबित थे. वहीं कोरोना संक्रमण के कारण 411 से अधिक शिक्षक दिवंगत हुए थे. कोरोना महामारी ने शिक्षकों को सर्वाधिक निशाना बनाया था, जो कि एक गंभीर चिंता का विषय था. . जिसके बाद लगभग 795 परिवारों को नियुक्ति दी गई.


छत्तीसगढ़ विधानसभा उपाध्यक्ष ने कहा है कि 697 दिवंगत शिक्षकों के परिवार के आश्रित को शिक्षा विभाग के द्वारा सीमित समय में अनुकंपा नियुक्ति आदेश जारी करने पर संतोष व्यक्त किया है. श्री मनोज सिंह मंडावी का ये भी कहना है कि सरकार ने दिवंगत शिक्षक के परिवार के आश्रित सदस्य को अनुकंपा नियुक्ति सांत्वना स्वरूप दिया है. जोकि प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल संवेदनशील मुख्यमंत्री है और लोगों के शुभचिंतक है दिवंगत शिक्षकों के परिजनों को अनुकंपा नियुक्ति प्रदान करने पर पुनः प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का मनोज सिह मंडावी ने आभार जताया है ।

NEWS27_REPORTER

http://news27.org

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *