दुर्गूकोंदल:  जंगो रायतार विद्या केतुल शिक्षण एवं शोध संस्थान दमकसा में अंतर्राष्ट्रीय पर्यावरण दिवस   पर पौधरोपण कर पर्यावरण को बचाने का संकल्प लिया

By।शिवचरण सिन्हा

दुर्गूकोंदल 6 जून। पर्यावरण संरक्षण से ही मानव जीवन की सुरक्षा संभव है, इसलिए पर्यावरण को बचाने बचाना हमारा कर्तव्य है।
जंगो रायतार विद्या केतुल शिक्षण एवं शोध संस्थान दमकसा में अंतर्राष्ट्रीय पर्यावरण दिवस के अवसर पर पौधरोपण कर पर्यावरण को बचाने का संकल्प लिया गया। इस कार्यक्रम में गांव गायता पुनऊ दुग्गा द्वारा नवविवाहित दो जोड़ा के हाथों पौधरोपण करवाकर उनके सुरक्षा का संकल्प दिलाया गया। इस दौरान मॉरीशस के राष्ट्रपति को श्रद्धांजलि अर्पित करने के पश्चात् उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए पर्यावरणविद शेरसिंह आचला के द्वारा कहा गया कि वर्तमान स्थिति को देखते हुए पर्यावरण को बचाना और शुद्ध रखना बहुत ही आवश्यक हो गया है क्योंकि पर्यावरण से ही हमें ऑक्सीजन की प्राप्ति होती है और ऑक्सीजन की कमी से हमारा जीवन संभव नहीं हो पा रहा है, जिसको हमने वर्तमान कोरोना काल में बहुत करीब से देखा है इसलिए इस कोरोना महामारी से भी हमें सीख लेना चाहिए पर्यावरण हमारे लिए कितना महत्वपूर्ण है प्रत्येक व्यक्ति को अपने जीवन काल में कम से कम 100 पौधे लगाने की आवश्यकता है ताकि हम आने वाले भविष्य को एक स्वच्छ वातावरण दे सकें तथा विभिन्न प्रकार की जो बीमारियां है उससे हम बचाव कर सकें। इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से लोक असर मासिक पत्रिका के संपादक परवेज आनंद, वन परिक्षेत्र अधिकारी देवलाल दुग्गा, चौकी प्रभारी पी.एल. मरकाम, डिप्टी रेंजर चित्रसेन कंचन, संतोष दुग्गा, प्रधान आरक्षक एबेरतुस केरकेट्टा, रूप सिंह कोमरा, रविंद्र दुग्गा, बाबूलाल कोला, धन्नू सलाम, रामा चुरेन्द्र, ललित नरेटी, मोहनीश मंडावी, लोकेश उईके, संतु दुग्गा, ओमप्रकाश दुग्गा, नरसिंह दुग्गा, कन्हैया पुड़ो, मोनानिशा दुग्गा, प्रेमशीला दुग्गा, नड़गू उयका, बीरसिंह पद्दा उपस्थित थे।

NEWS27_REPORTER

http://news27.org

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *