जशपुर। जिले से 25 किलोमीटर दूर रामरेखा मार्ग कंडोरा झारखंड में वाहन चेकिंग हो रहा था। उससे बचने के लिए पास के गांव का मनमौजी शाला ने फौजी जीजा का वर्दी पहनकर कार लेकर निकला। उसके साथ उसका मित्र भी था दोनों को कहि जाना था । इसी बीच बेरियर में चेकिंग चल रहा था उसे भी रोका गया । तभी उसका दोस्त फरार हो गया। उसने खुद को फौजी बताया और ड्यूटी में जाने की बात कही। मैं फौजी हु मुझे जाने दो । इस दौरान वह नशे में धुत था । संदेह होने पर पुलिस ने पहले उससे उसका आई डी फिर गाड़ी के दस्तावेज दिखाने को कहा । वह चुप रहा, उसके फर्जी होने का पता चल गया । उसे गाड़ी उतारकर उसे फटकार लगाया । वर्दी उतारने को कहा गया लड़के ने वर्दी और जूते उतार दिये। दंड के तौर पर उसे कान पकड़कर उठक बैठक ,मेंढक कूद, और दंड कराया गया जिससे उसके होश ठिकाने में आ गया। गलती के लिए उसने माफी मांगा और कभी गलती नही करूंगा बोला। उसने बताया कि वह शिक्षक है चेकिंग से बचने के लिए जीजा का वर्दी पहनकर निकला ताकि चेकिंग से बचा जा सकें। पुलिस ने उसे समझाईश दी और भविष्य में ऐसी गलती नही करने को कहा।

NEWS27_REPORTER

http://news27.org

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *