जशपुर। गांजा तस्करों के नेटवर्क तक पुलिस एक एक कर पहुंच रही है और कई सबूत समेत खुलासे भी हो रहे। इस दौरान गांजा तस्करी का मुख्य सरगना आरोपी पिंटू उर्फ कष्णकांत वैश्य से पुलिस द्वारा पूछताछ की गई। उसने विगत ढाई साल से सिंगरौली (म.प्र.) में जाकर गांजा तस्करी का कार्य करना बताया। आरोपी ओडिसा राज्य के संबलपुर, झारसगुड़ा से गांजा खरीदकर ट्रेन के जरिये, चारपहिया वाहन एवं बाईक से लाता था, आरोपी उक्त गांजा को ओडिसा से 04 हजार रू. प्रति किलोग्राम की दर से क्रय कर उक्त गांजा को सिंगरौली (म.प्र.) क्षेत्र में 12-15 हजार रू. में विक्रय करता था। आरोपी गांजा परिवहन के लिये कुरियर के रूप में महिला एवं पुरूष दोनों का उपयोग करता था, साथ ही यात्री बस, एम्बुलेंस एवं मालवाहक वाहन में भी गांजा का परिवहन करता था। आरोपी के विरूद्ध पूर्व में भी सिंगरौली (म.प्र.) में नारकोटिक्स एक्ट के तहत् कार्यवाही की गई है। दिनांक 15.10.2021 को पत्थलगांव में घटित घटना में पुलिस द्वारा पकड़े गये आरोपी द्वारा ओडिसा के तस्कर को बैंक अकाउंट के माध्यम से 40 हजार रू. रकम स्थानांतरित किये गये थे।आरोपी पिंटू गांजा के अलावा कफ सिरफ तस्करी एवं विक्रय करने का भी कार्य करता है।आरोपी पिंटू उर्फ कष्णकांत वैश्य द्वारा ओड़िसा, झारखंड और छत्तीसगढ़ के अलग अलग रास्तो से तस्करी करता है पत्थलगांव प्रकरण के आरोपी बबलू विष्वकर्मा एवं शिशुपाल साहू पूर्व में भी पिंटू के लिये गांजा तस्करी का कार्य कर चुके हैं।पिंटू द्वारा गांजा तस्करी में प्रयुक्त प्रत्येक वाहन को प्रति ट्रिप में 10 हजार रू. देता था, जो वाहन किराये के अतिरिक्त रहता था। पिंटू उर्फ कष्णकांत वैश्य खुद गांजा एवं सिरप पीने का शौकीन है, कोडवर्ड में गांजा को माहौल एवं सिरप को सिस्टम बोला जाता है।


NEWS27_REPORTER

http://news27.org

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *