मोक्ष प्राप्ति हेतु श्रीमद्भागवत कथा  श्रवण करना चाहिए: पंडित रामकुमार शर्मा


किरवई में जारी … श्रीमद्भागवत कथा,श्रद्धालुओं का लगा तांता


रायपुर। स्वर्गीय बिसराम साहू पूर्व सरपंच ग्राम पंचायत किरवई एवम स्वर्गीय गोमती साहू के पुण्यतिथि पर गृहग्राम किरवई में आयोजित श्रीमद्भागवत महापुराण के द्वितीय दिवस परीक्षित कथा पर व्याख्यान देते हुए भागवताचार्य पंडित रामकुमार शर्मा मजरकटा गरियाबंद ने कहा ,कलयुग के प्रभाव से राजा परीक्षित ने तपस्या पर बैठे शमिक मुनि के गले मे मरा हुआ सर्प डाल दिया था। इसे अपने पिता का अपमान समझकर शमिक मुनि के पुत्र श्रृंगी ऋषि ने सातवें दिन तक्षक नाग के काटने से राजा की मौत होने का श्राप दे दिया,श्राप से व्यथित और अपने आप को मृत्यु के करीब जानकर राजा ने शुकदेव जी पूछा कि,मृत्यु के द्वार पर खड़े व्यक्ति को मोक्ष प्राप्त करने के लिए कौन सा उपाय करने चाहिए। शुकदेव जी ने कहा कि ऐसे व्यक्ति को श्रीमद्भागवत कथा का श्रवण, चिंतन,मनन करना चाहिए, भागवत कथा सुनने से अनेक पापों का यूँ ही नाश हो जाता है, कलिकाल में हर व्यक्ति को इस कथा का श्रवण करना चाहिए।

इस प्रकार भागवताचार्य ने उपस्थित श्रोताओं एवम धर्मानुरागी लोगो को पवित्र कथा कहकर तृप्त कर रहे हैं, सुमधुर भजनों एवम संगीतमय प्रस्तुति ने लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया है।परीक्षित की भूमिका में तिजु राम साहू,श्रीमती हेमिन साहू, देवनारायण साहू श्रीमती हीरा साहू नित्य कथा सत्संग लाभ ले रहे हैं।कार्यक्रम को व्यवस्था प्रदान करने में टाकेश्वरी पुरुषोत्तम साहू, टकेश्वरी भोजराज साहू, हेमिन तिजु राम,कामिन देवलाल, हीरा देवनारायण, सोनल मयाराम साहू, कोमल ,योगेश,कोमेश, चंद्रप्रभा,सुनिधि,भूपेश,चैतन्या सहित सभी परिवार एवम समस्त ग्रामवासी लगे हुए हैं।

NEWS27_REPORTER

http://news27.org

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *