जीवन में कभी भ्रम न पालें,बल्कि समाधान खोजें :श्रवण कुमार साहू”प्रखर”


श्रीमद्भागवत महापुराण यज्ञ स्थल पर श्रीराम कथा का भव्य आयोजन


राजिम। जीवन में कभी भी भ्रम न पालें, बल्कि मन मे उपजे संदेह का अतिशीघ्र समाधान कर लें,अन्यथा यह दोनों पक्षों के लिए विनाशकारी होता है,जो किसी भी स्थिति में न्यायसंगत नहीं होता। उक्त बातें ग्राम किरवई में स्व. बिसराम साहू, पूर्व सरपंच एवं स्व गोमती बाई के स्मृति में आयोजित श्रीमद्भागवत कथा स्थल पर आयोजित श्री रामकथा कार्यक्रम में उपस्थित संत समाज को व्याख्यान के माध्यम से सम्बोधित कर रहे थे। मानस के अंतर्गत किष्किन्धा कांड के कथा प्रसंग पर चर्चा करते हुए तुलसी के राम मानस परिवार राजिम ,जिला गरियाबंद के व्याख्याकार,श्रवण कुमार साहू “प्रखर”ने बाली और सुग्रीव के बीच भ्रम से उपजे विवाद एवं उनके फलस्वरूप बाली के पीड़ादायक अंत के बारे में श्रोताओं को बताया कि, इस परिस्थिति के लिए बाली और सुग्रीव के मध्य भ्रम ही उत्तरदायी था।श्री कृष्ण जन्मोत्सव के इस उल्लासपूर्ण कार्यक्रम में भारत लाल साहू, हारमोनियम के साथ गायिकी,बलिराम पटेल बेंजो, युगल साहू तबला,धनेश ध्रुव एवम अभिषेक साहू नाल,चंदन यादव बांसुरी, यशवंत साहू पेड, कोमल साहू मंजीरा एवं भूपेंद्र सोनकर कोरस के रूप में जबरदस्त लय ताल के साथ छत्तीसगढ़ी लोकविधा की सुरमई प्रस्तुति देकर लोगों को झूमने पर मजबूर कर देते है।इस कार्यक्रम के आयोजकगण तिजुराम साहू, देवलाल साहू, देवनारायण साहू, मयाराम साहू, पुरुषोत्तम साहू, भोजराज साहू सहित समस्त सोनबोइर परिवार तन,मन,धन से लगे हुए हैं।इस कार्यक्रम का आनंद लेने हेतु अंचल के भागवत प्रेमी प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में पहुंच रहे हैं।

NEWS27_REPORTER

http://news27.org

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *