वादा निभाओ अभियान शुरू…


रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश पंचायत सचिव संगठन के प्रांतीय आह्वान पर छः ग. के 90 विधानसभा के सभी मंत्री गण एवं सभी विधायक गण के निवास में जाकर एक सूत्रीय मांग परीक्षा अवधि पश्चात शासकीय करण को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ शासन एवं पंचायत मंत्री टी एस सिंह देव के नाम ज्ञापन सौंपने हेतु विधानसभा प्रभारी , विधानसभा सह प्रभारी एवं विधानसभा पर्यवेक्षक की नियुक्ति प्रांत अध्यक्ष तुलसी साहू द्वारा किया गया है ।सभी प्रभारी आज 17 से 22 नवम्बर तक सभी मंत्री एवं विधायक को ज्ञापन देकर शासकीय करण की मांग करेंगे। इसी क्रम में ग्राम पंचायत सचिवों की एक सूत्रीय मांग शासकीय करण को लेकर प्रदेश सचिव संघ द्वारा संचालित वादा निभाओ अभियान के तहत छत्तीसगढ़ के अंतिम छोर सुदूर अंचल विधानसभा क्षेत्र अंतागढ़ से प्रारंभ करते हुए अंतागढ़ विधायक अनूप नाग को मुख्यमंत्री भूपेश एवं पंचायत मंत्री टी एस सिंह देव के नाम ज्ञापन सौंपा गया , एवं संसदीय सचिव एवं विधायक बिलाईगढ़ चंद्र देव राय को प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष प्रदीप यादव के नेतृत्व में शासकीय करण की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा गया । जिसमें प्रदेश अध्यक्ष तुलसी साहू कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष मोहन भारद्वाज द्वारा विधायक के समक्ष अपनी पक्ष रखते हुए निम्न कारणों से शासकीय करण करने का निवेदन किया गया ।

सचिवों का कहना है..

  • छत्तीसगढ़ प्रांत में 10559 पंचायत सचिव ग्रामीण अंचल में शासन के समस्त योजनाओं का लाभ समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने का कार्य जिम्मेदारी के साथ कर रहे हैं प्रदेश पंचायत सचिव संगठन द्वारा अपनी लंबित मांगों के संबंध में हड़ताल पश्चात 24 जनवरी 2021 को मुख्यमंत्री निवास में माननीय मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के समक्ष प्रतिनिधि मंडल द्वारा शासकीय करण का मांग रखा गया ।

  • सीएम द्वारा दिसंबर 2021 में शासकीय करण का सौगात देने का वादा किया गया था।

  • पंचायत सचिव 29 विभागों के 200 प्रकार के कार्य को जमीनी स्तर पर जिम्मेदारी के साथ ईमानदारी पूर्वक निर्वहन करते हुए राज्य शासन एवं केंद्र शासन के समस्त योजनाओं को लोकतंत्र के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने का अति महत्वपूर्ण कार्य को अंजाम देते हैं ।
  • वर्तमान में वैश्विक महामारी कोविड-19 में ग्रामीण जन की सुरक्षा हेतु सभी प्रकार के कार्य जैसे कोविड-19 टेस्ट , घर-घर जाकर टीकाकरण करने जैसे महत्वपूर्ण कार्य को सफलतापूर्वक संचालन किया जा रहा है।
  • छत्तीसगढ़ शासन की अति महत्वकांक्षी योजना नरवा गरवा घुरवा अउ बारी के तहत ग्राम में गौठान कार्य एवं मनरेगा कार्यों का जिम्मेदारी पूर्वक निर्वहन कर रहे हैं।
  • शासन प्रशासन के दिशा निर्देश एवं पंचायत सचिवों के कड़ी मेहनत तथा कार्य के प्रति लगान एवं सच्ची निष्ठा का ही परिणाम है कि छत्तीसगढ़ शासन को राष्ट्रीय पंचायत दिवस पर 12 राष्ट्रीय पुरस्कारों से सम्मानित किया जाना इस बात का प्रमाण है ।
  • पंचायत सचिव को शासकीय करण करने से शासन प्रशासन को वार्षिक वित्तीय भार लगभग 75 करोड ही आएगा जो कि नहीं के बराबर है ।
  • पंचायत सचिव को कार्य करते हुए 25 वर्ष से अधिक हो गया है पंचायत सचिवों के साथ नियुक्त हुए अन्य विभाग के कर्मचारी जैसे शिक्षाकर्मी पीडब्ल्यूडी कर्मी को उनके विभाग में शासकीयकरण किया जा चुका है।
  • पंचायत सचिवों को परीक्षा अवधि पश्चात शासकीय करण करने हेतु छत्तीसगढ़ प्रदेश के 65 विधायक गण द्वारा अनुशंसा किया गया है ।

NEWS27_REPORTER

http://news27.org

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *