दुर्गूकोंदल: हाहालददी माइंस बंद , शासन ट्रांसपोर्ट, मजदूरों समेत करोड़ों रु. नुकसान

By।शिवचरण सिन्हा

परिवहन संघ ने समस्या समाधान करने की मांग

दुर्गूकोंदल 9 जनवरी । हाहालद्दी माइंस में परिवहन, खनन और मजदूरी कार्य 16दिसंबर से बंद है। माइंस में सभी कार्य बंद होने से भारी परेशानी हो रही है। ट्रक मालिक बेचैन हैं। कि माइंस जल्द चालू हो। लेकिन माइंस चालू होने की के लिए मजदूर, एसडीएम, मजदूर ठेकेदार के बीच हुई वार्ता विफल हो गई है। इधर मोनेट माइंस में भी रेश्यो को लेकर सहमति नहीं बनने से परिवहन कार्य चालू नहीं हो पाया है। भानुप्रतापपुर परिवहन संघ को रेश्यो नहीं देने की बात पर बैठक खत्म हो गई। और इसी कारण परिवहन कार्य मोनेट माइंस में भी बंद है। परिवहन संघ दुर्गूकोंदल, समिति दोड़दे और ठेकेदार मिलकर परिवहन कार्य करना चाहते हैं। दुर्गूकोंदल परिवहन संघ और समिति का कहना है, कि भानुप्रतापपुर परिवहन संघ का दुर्गूकोंदल के कोई भी माइंस में परिवहन रेश्यो मांगने का हक नहीं है। शासन प्रशासन को इनकी बातें नहीं माननी चाहिए।

कोई सुनवाई नही, ट्रक मालिक परेशान …

हाहालददी, चाहचाड, श्री बजरंग आईरन ओर माइन्स पिछले 16 दिसंबर 2021 से परिवहन कार्य एवं खनन कार्य मजदूर हड़ताल होने से पूरी तरह से परिवहन एवं खनन कार्य बद हुआ है वहीं मजदूर अपनी मांगों को लेकर अडे हुए हैं। जिससे शासन प्रबंधन, ट्रांसपोर्ट, मजदूरों, का करोड़ों रुपए का व्यवसाय ढप पड़ा हुआ है। जिसमें शासन की रॉयल्टी दो करोड़ रुपए फॉरेस्ट 15लाख रुपए ,ट्रांसपोर्टर 10 करोड़ एवं मजदूरों का मजदूरी 26 लाख 50 हजार रुपए का एवं कंपनी का करोड़ों रुपए का नुकसान हड़ताल से हुआ है । इस हड़ताल को लेकर परिवहन संघ दुर्गुकोंडल के द्वारा छत्तीसगढ़ विधानसभा उपाध्यक्ष एवं विधायक मनोज सिंह मंडावी, जिला कलेक्टर कांकेर ,एसडीएम भानुप्रतापपुर, एवं माइंस प्रबंधन श्री बजरंग आयरन ओर माइंस को ज्ञापन सौंपा था फिर भी इस समस्या का समाधान नहीं निकाल पाए जिससे सबसे ज्यादा ट्रक मालिक परेशान है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *