योग दिवस में आपात कालीन चिकित्सकों ने किया योगा

छत्तीसगढ़

रायपुर।अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर विप्र स्वास्थ्यसेवा संगठन द्वारा आपातकालीन चिकित्सा वाहन 108 के कर्मचारियों के लिए योग प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया। इस अवसर पर संगठन की योग गुरु डॉ सिद्धि दुबे ने स्वास्थ्य में योग का महत्व बताते हुए शरीर के विभिन्न अंगों को स्वस्थ रखने के लिए विभिन्न आसन सिखाये।
उन्होंने उपस्थित समूह को ॐ का उच्चारण करने की विधि सिखाते हुए इससे शरीर को होने वाले लाभ का अनुभव कराया। डॉ दुबे ने बताया कि योग करने के 5 प्रकार होते हैं, आमतौर पर 4 प्रकार से- बैठकर, पेट के बल लेटकर, पीठ के बल लेटकर और खड़े होकर योग किया जाता है। डॉ दुबे ने प्रशिक्षण के दौरान बताया कि योग का व्यक्तिगत महत्व होता है। कोई भी योग आसन व्यक्ति की शारीरिक प्रकृति के अनुसार करना चाहिए। उन्होंने ब्लड प्रेशर के मरीजो को नाड़ी शोधन प्राणायाम से लाभ मिलने की जानकारी दी।
आज के कार्यक्रम में विप्र स्वास्थ्य सेवा संगठन के प्रदेश अध्यक्ष डॉ सतीश दीवान, संगठन की दिव्यांग प्रशिक्षिका श्रीमती मनीषा पाटिल, पत्रकार राजेश के अतिरिक्त आपातकालीन चिकित्सा 108 के मानव संसाधन विभाग प्रमुख श्री लिंगराज दास, अभिषेक राजपुत, प्रशांत मुत्यमवार, प्रतीक सिंह, शिबू कुमार, पंकज राहंगडाले, राजेश पांडे, राज गेहानी, डॉ पंकज सचान, राकेश कुमार व अन्य अधिकारी, कर्मचारीगण उपस्थित रहे।
कार्यक्रम के अंत में GVK EMRI 108/102 की ओर से लिंगराज दास ने अपने कर्मचारियों को विप्र स्वास्थ्यसेवा संगठन द्वारा उपयोगी योग प्रशिक्षण देने के लिए धन्यवाद ज्ञापित करते हुए संगठन के सदस्यों को स्मृति चिन्ह भेंट किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *