स्कूल खुलने पर नए विद्याथियों का टीचरों ने किया स्वागत

एजुकेशन छत्तीसगढ़


रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य के सभी स्कूलों के द्वारा आज से बच्चों के लिए खुल गए और एक बार फिर से स्कूल में बच्चों के आने से रोनक लौट आई। उल्लेखनीय है कि राज्य में स्कूलों को 15 जून से खुलना था, लेकिन इस बार भीषण गर्मी पड़ने के साथ और मानसून की देरी के कारण राज्य शासन ने स्कूलों को 24 जून से शुरू करने का निर्णय लिया।स्कूलों में बच्चों के आगमन पर पहली, छटवीं और नवमीं कक्षा में प्रवेश करने वाले विद्यार्थियों का स्कूल में तिलक लगाकर स्वागत किया गया। बच्चों को पाठ्यपुस्तक, गणवेश और चॉकलेट देकर प्रोत्साहित भी कियागया। रायपुर जिले के तिल्दा विकासखण्ड के शासकीय माध्यमिक विद्यालय कुर्रा की शिक्षिका कुसुमलता वर्मा ने बताया कि स्कूल के पहले ही दिन उपस्थित 40 छात्रों और 35 छात्राओं कुल 75 बच्चों को गणवेश और पुस्तकों को वितरण किया गया। इसी तरह यहां की प्राथमिक शाला की प्रधान अध्यापिका सविता चन्द्राकर ने बताया कि कुल 108 बच्चों को युनिफार्म और पुस्तकों का वितरण किया गया। तिल्दा के विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी सुधीर एक्का ने बताया कि विकासखण्ड में कक्षा पहली से आठवीं तक पढ़ने वाले शत्-प्रतिशत बच्चों को गणवेश और पुस्तकों का वितरण हो गया है।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सभी स्कूली बच्चों और उनके अभिभावकों को नये शिक्षण सत्र की बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार द्वारा कक्षा नवमीं से बारहवीं तक की शिक्षा को शिक्षा के अधिकार के दायरे में लाया गया है। इससे अब कक्षा पहली से बारहवीं तक के बच्चों को निशुल्क और अनिवार्य शिक्षा का लाभ मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *