रसोईसंघ करेंगे अनिश्चित कालीन हड़ताल ,रसोइयों की मांगे पूरी नही होने पर देगें इस्तीफा

छत्तीसगढ़

बालोद । सरकार सरकारी विभागों के कर्मचारियों को अच्छी सैलरी दे रहा हैं तो रसोईयों की तरफ अशवासन भर हैं। रसोईयों की भर्ती के सालों बीत गये लेकिन इनकी हालत जस के तस हैं । रसोइया भर्ती प्रक्रिया शासकीय सिस्टम के मुताबिक हुवा हैं इनके अंशकालीन होने की वजह से इन्हें कर्मचारी का दर्जा भी नसीब नही हैं हालांकि सरकार की तरफ इन्होंने ध्यान आकर्षित कराया बावजूद इन्हें नजरअंदाज किया गया । समय बीतते ही नाकामियों को भुलाकर रसोइया फिर से शासन की तरफ ध्यान आकर्षित करने को बेताब हैं इसकी तैयारियां जोरों पर हैं । इसको लेकर बालोद में 13 फरवरी शानिवार को रसोई संघ ने झलमला स्थित गंगा मइया प्रांगण में बैठक आयोजित किया गया । बैठक में रसोईसंघ के पदाधिकारियों ने कई अहम निर्णय लिए हैं । संघ रसोइयों की हितों को ध्यान में रखकर अनिश्चित कालीन हड़ताल की तैयारी में हैं। रसोइयों ने बताया की वह सितंबर में प्रदेश के सभी रसोईया राजधानी में जुटेंगे और मांगो को लेकर अनिश्चित कालीन हड़ताल करेगें। फिलहाल इसकी तैयारी प्रत्येक जिले में चल रही हैं। रसोइयों ने बताया की मुख्य मांगे मानदेय को लेकर हैं संघर्ष के काफी समय हो गए हैं इस बार मानदेय में बढ़ोतरी नही होने पर रसोइयों ने पद से इस्तीफा देने का मन बना लिया है हालांकि रसोइयों को उम्मीद हैं की सरकार उनकी मांगें पूरी करेगीं। बैठक में रमेश निर्मलकर जीवन लाल नागवंशी ,पंचराम,धन्नू राम कश्यप,महेंद्र यादव,सुरेंद्र सारथी,प्रमोद कुमार यादव,पंच नारायण यादव, छगन लाल मालोकर,पंचू राम देशमुख,रेवा राम देशमुख, द्वारिका प्रसाद देशमुख,लता मरकाम,जोल राम,दया राम,नुकेदा सोनवानी ,छगन लाल मटोकर आदि उपस्थित रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *