शासकीय भूमि पर बनाया पोल्ट्री फार्म, ग्रामीणों के सेहत पर पड़ रहा बुरा असर

छत्तीसगढ़

धमतरी।मगरलोड ।जिले के मगरलोड ब्लॉक मुख्यालय से लगभग 6 किमी दूर में बसे ग्राम बोड़रा में एक रसूखदार व्यक्ति के द्वारा नागदेव नाला से लगे अपने निजी भूमि से लगे शासकीय भूमि पर अतिक्रमण कर पोल्ट्री फार्म खोल रखा है। इसके लिए उनके द्वारा बाकायदा बैंक से ऋण भी लिया गया है यह तो जांच के बाद स्पष्ट होगा कि उक्त ऋण किस भूमि पर एवं किस हेतु लिया गया है। फिलहाल ग्रामीणों में उस रसूखदार व्यक्ति की एप्रोच तगड़ा होने के कारण उसके खिलाफ शिकायत करने से घबरा रहे है। दबे जुबान से जरूर कह रहे है कि उसके निजी भूमि से लगे शासकीय भूमि पर कब्जा कर पोल्ट्री फार्म का निर्माण किया है। यह बताना अतिआवश्यक है कि गांव के नजदीक पोल्ट्री फार्म होने से ग्रामीणों के सेहत पर बुरा असर पड़ सकता है,फिलहाल ऐसी कोई खबर नही आई है।बरसात के समय अत्यधिक बदबूदार हवा एवं मक्खी की शिकायत गांव के चौक चौराहो में चर्चा का विषय बना हुआ है।इस विषय पर कोई भी ग्रामीण खुलकर नही बोल पा रहा है इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि लोगो मे किस तरह भय का माहौल बना हुआ है।
इसके संबंध में हल्का पटवारी आर के दिली से फोन पर चर्चा करने पर बताया कि तहसीलदार मगरलोड द्वारा जांच हेतु मौखिक आदेश प्राप्त हुआ है किंतु उक्त भूमि पर बारिश की वजह से जमीन गीली ही गई थी इस कारण अभी तक जांच नही किया जा सका है,जमीन सूखते ही जांच कर कार्यवाही हेतु प्रतिवेदन तहसीलदार को सौपा जाएगा।

वही इस संबंध में ग्राम पंचायत के सचिव दुलार सिंग साहू से चर्चा करने पर बताया कि उक्त पोल्ट्री फार्म के निर्माण के समय मैं यहाँ पर पदस्थ नही था तथा उन्होंने ग्राम पंचायत से अनापत्ति प्रमाण पत्र लिया है या नही इसे रजिस्टर देख के ही बता पाऊंगा। जरूर इस तरह के चर्चा को मौखिक रूप से सुनने में आया है पर लिखित शिकायत किसी की अभी तक नही आई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *