अटल बिहारी वाजपेयी विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में 126 विद्यार्थियों को मिला गोल्ड मेडल

एजुकेशन छत्तीसगढ़

बिलासपुर।आज अटल बिहारी वाजपेयी विश्वविद्यालय बिलासपुर के द्वितीय दीक्षांत समारोह में कुलाधिपति एवं राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके राज्यपाल ने कहा कि जीवन में लक्ष्य होगा तभी हम उसे प्राप्त करने के लिए मेहनत करेंगे। विद्यार्थी सीखने की प्रवृत्ति को बनाए रखें। उपाधि प्राप्त कर विद्यार्थी एक नये जीवन में प्रवेश कर रहे हैं जो अपेक्षाकृत कठिन होगा। आपने विद्यार्थी जीवन में जो ज्ञान प्राप्त किया है, उसका उपयोग समाज को बेहतर बनाने के लिए इस्तेमाल करें।
कार्यक्रम में 126 विद्यार्थियों को विभिन्न विषयों में गोल्ड मेडल प्राप्त हुआ, इनमें 90 छात्राएं हैं। इन छात्राओं को राज्यपाल ने विशेष बधाई दी। उन्होंने कहा कि देश में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान चल रहा है, उसका यह उत्कृष्ट उदाहरण है। पूरे भारत में छत्तीसगढ़ को इस अभियान में 10वां स्थान मिला है, जिसका श्रेय रायगढ़ जिले को जाता है। 


उन्होंने कहा कि शिक्षा में उच्च गुणवत्ता बहुत महत्वपूर्ण है। विश्वविद्यालय इसके लिए प्रयासरत है। इस प्रयास के फलस्वरूप यहां के विद्यार्थी देश-विदेश में जाकर छत्तीसगढ़ और बिलासपुर का नाम रौशन कर रहे हैं। 
कुलपति प्रो. गौरीदत्त शर्मा ने अतिथियों का स्वागत करते हुए विश्वविद्यालय का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। उन्होंने विश्वविद्यालय की उपलब्धियों का उल्लेख किया। कार्यक्रम में विभिन्न परीक्षाओ में अच्छे नम्बर प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को स्वर्ण मंडित पदक व विभिन्न पदकों से सम्मानित किया गया। 
दीक्षांत समारोह में मंच पर जिले के प्रभारी मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू, नेता प्रतिपक्ष श्री धरम लाल कौशिक, सांसद श्री अरूण साव, महापौर श्री किशोर राय भी विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित थे।  समारोह में संभागायुक्त श्री बी.एल. बंजारे, पुलिस महानिरीक्षक श्री प्रदीप गुप्ता, कलेक्टर डॉ. संजय अलंग कार्यपरिषद् के सदस्य, विभिन्न विश्वविद्यालयों के कुलपति , कुलसचिव, महाविद्यालयों के प्राचार्य एवं प्राध्यापक, उपाधिधारकों के अभिभावक, छात्र-छात्राएं व गणमान्य नागरिक बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *