शिक्षक को गांव की गोरी से हुआ प्यार शपथ पत्र में दूसरी धर्मपत्नी और जायदाद का बताया हिस्सेदार

छत्तीसगढ़

जशपुर। कहते है इश्क पर किसी का जोर नहीं चलता। प्यार कोई उम्र नहीं देखता कब किससे आंखे चार हो जाए इसका तो इश्क ही मालिक है।

इस पर सबसे अच्छा उदाहरण प्रोफेसर मटुकनाथ की प्रेम कहानी है। कुछ इसी तरह की कहानी छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में शुरू हुई है पर यह मटुकनाथ की कहानी से जुदा है। इन दिनों एक शिक्षक की आशिकी चर्चा में है हालांकि यह कोई नई बात नहीं ऐसी घटनाएं पहले भी होती रही है। ताजा मामला कुनकुरी थाना क्षेत्र में पदस्थ एक हाई स्कूल के शिक्षक का है। यहां आते जाते शिक्षक को गांव की एक लड़की से प्यार हो गया । लड़की की उम्र 22 है जबकि शिक्षाकर्मी को 44 वर्षीय है। दोनों की उम्र में 22 फासला है। शिक्षक विवाहित है जिसकी पूर्व पत्नी भी है वहीं वह दूसरी शादी को तैयार है। गांव में सरहुल पर्व मनाया जा रहा था इसी अवसर में शिक्षक प्रेमिका से मिलने गया। जहां उसने परिवार वालों को शपथ पत्र दिखाते हुवे पढ़कर सुनाया। फिलहाल दीवाने की मुस्किले और बढ़ती जा रही। प्रेमप्रसंग को लेकर तरह तरह की बातें की जा रही है। दूसरी ओर परिवार प्रतिष्ठा को लेकर थाने में मामला दर्ज नहीं कराया है। शिक्षक ने शपथ पत्र में घोषणा किया है कि लड़की के साथ उसका चार माह से संबंध है वह शादी शुदा है वह लड़की को दूसरे पत्नी के रूप में स्वीकार करेगा। वह संपत्ति में बराबर की हिस्सेदार रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *