करवा चौथ का व्रत सादगी ढंग से मनाया

छत्तीसगढ़

रायपुर । कहते है चुटकी भर सिंदूर सुहागिनों के लिए काफी है और भारतीय , संस्कारों के मुताबिक पत्नी पति को परमेश्वर मानती है।इनसे जुड़ा त्यौहार करवा चौथ गुरुवार को देश भर में ताम झाम के साथ मनाया गया। इसी क्रम में रायपुर की प्रोफेसर कॉलोनी निवासी प्रज्ञा त्रिवेदी ने करवा चौथ का पर्व सादगी पूर्ण तरीके से मनाया। इस दिन वह अपने पति श्री के लिए दिन भर निर्जला व्रत रहीं। रात को चांद का दीदार होते ही रस्मों रिवाज के साथ चांद को अर्घ्‍य देकर पतिदेव अशोक त्रिवेदी की आरती उतारकर चरण स्पर्श कर उनका आशीर्वाद लिया। उन्होंने अपनी धर्मपत्नी प्रज्ञा को हाथों से पानी पिलाकर इस व्रत को तोड़ा । इस दौरान श्रीमती त्रिवेदी ने पति की लंबी उम्र के लिए कामना की। प्रज्ञा ने बताया कि करवा चौथ पति पत्नी के बीच आपसी स्नेह ,विश्वास को और मज़बूती देने का त्यौहार है, किसी व्रत को ग्लैमरिकरण ठीक नही है, पर ये बीते 20 साल में हो गया है उसके पीछे धारावाहिकों का बढ़ता क्रेज़ है। लेकिन हम इस अवसर को बेहद आज स्नेह और सादगी से मनाते हैं। हर पत्नी पति की दीर्घायु चाहती है, इसलिए इस व्रत को परम्परानुसार ही करना उचित है,दिखावे से दूर रहकर। श्रीमती त्रिवेदी ने बताया कि वह अपने पति के साथ मित्र की तरह रहते हैं।परिवार में हम मित्र की तरह रहते हैं, घर में स्त्री न पुरुष सत्तात्मक, बल्कि दोनों सहचर मित्र हैं।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *