हजारों करोड़ के निवेश के बाद भी नवा रायपुर में नहीं बस पाया शहर: मुख्यमंत्री, मंत्रीगण यहां रहेंगे तो बसेगा शहर: भूपेश बघेल

छत्तीसगढ़

रायपुर।छत्तीसगढ़ के गांवों से लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज धनतेरस के अवसर पर यहां नवा रायपुर अटल नगर के सेक्टर-24 में 591.75 करोड़ रूपए की लागत से बनने वाले राजभवन, मुख्यमंत्री निवास, विधानसभा अध्यक्ष निवास, मंत्रीगणों के आवास गृह एवं वरिष्ठ अधिकारियों के आवासीय परिसर का भूमिपूजन किया। समारोह में छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत और मंत्री परिषद् के सदस्यों एवं विशिष्ट अतिथियों की गरिमामय उपस्थिति में सम्पन्न हुआ। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहां कि नई राजधानी का शिलान्यास श्रीमती सोनिया गांधी ने वर्ष 2001 में किया था, तब से लेकर अब तक यहां हजारों करोड़ रुपए का पूंजी निवेश हुआ। सड़कें बन गयी, बिजली पानी की व्यवस्था भी हो गई लेकिन शहर अब तक नहीं बस पाया है। उन्होंने कहा कि देश में कई राज्यों में नई विकसित की गई राजधानियों में भी अब तक बसाहट नहीं हो पाई है, इसी तथ्य को ध्यान में रखकर हमने यह फैसला किया है पहले यहां मुख्यमंत्री, विधानसभा अध्यक्ष, मंत्री परिषद के सदस्य और सभी वरिष्ठ अधिकारी रहेंगे, तो धीरे-धीरे शहर बसेगा। छोटे अधिकारी कर्मचारी भी यहां बसेंगे, तो बाजार और अस्पताल भी विकसित होंगे। श्री बघेल ने इस अवसर पर प्रदेशवासियों को धनतेरस पर्व की बधाई और शुभकामनाएं दी।इस अवसर पर लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू, कृषि मंत्री रविंद्र चौबे, वन एवं पर्यावरण मंत्री मोहम्मद अकबर, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री टी एस सिंहदेव, महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अनिला भेंड़िया आदि मंत्रीगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *