प्रगति महाविद्यालय के विद्यार्थियों ने बेस्ट आउट बेस्ट प्रतियोगिता में दिखाया हुनर

छत्तीसगढ़

रायपुर। सृजन ही जीवन है , सृजन से ही सृष्टि है सृजन के द्वारा ही बहुमुखी प्रतिभा से परिचय होता है ।अपनी इसी बहुमुखी प्रतिभा का प्रदर्शन करते हुए राजधानी रायपुर स्थित प्रगति महाविद्यालय चौबे कॉलोनी में मंगलवार को बेस्ट आउट ऑफ बेस्ट प्रतियोगिता आयोजित किया गया। इस अवसर में विद्यार्थियों ने हस्तनिर्मित विचार वृक्ष ,वाटर कॉल, चिड़िया का घोंसला ,कृष्ण का झूला, पुरानी न्यूज़ पेपर से शिप ,बिसलेरी ट्राईसिकल , पुट्ठों से लैंप, पुरानी बोतल एवं सीडी से उल्लू ,नारियल की खोटली से झूला , माचिस की तिल्ली से पेन एवं आइसक्रीम स्टैंड बनाया। इस प्रतियोगिता की निर्णायक मीना सिंह रहीं। द्वितीय कड़ी में ग्रुप डिस्कशन प्रतियोगिता में आधुनिक दौर में क्यों समाप्त हो रहे हैं मानव मूल्य, आज की पीढ़ी के एकांकी वन अकेली जिम्मेदार कौन है, नौकरी या उद्यमिता श्रेष्ठ कौन, क्या सोशल नेटवर्किंग आपस में लोगों को जोड़ रही है । इसकी निर्णायक सुश्री शुभा मिश्रा थी । इस अवसर में प्रगति महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ सौम्या नैयर ने विद्यार्थियों की कलात्मक प्रस्तुति एवं अद्भुत प्रतिभा व बौद्धिक क्षमता की तारीफ। इस प्रतियोगिता में सभी विभागों के विभागाध्यक्ष एवं समस्त समूह प्रभारी के उचित मार्गदर्शन से विद्यार्थियों ने शानदार प्रस्तुति दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *